Expand

लाइमलाइट में आने का कोई मौका नहीं गंवा रहे नड्डा

लाइमलाइट में आने का कोई मौका नहीं गंवा रहे नड्डा

- Advertisement -

शिमला। पहाड़ की सियासत में आने वाला वर्ष नए चुनावी रंग भी लेकर आएगा। जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव नजदीक आते जा रहे हैं, वैसे-वैसे राजनीतिक दलों में नए समीकरण भी बनते दिख रहे हैं। बीजेपी हो या कांग्रेस नए नेताओं का उभार भी नए संकेत दे रहा है। बात बीजेपी की करें तो केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा बीते कुछ समय से हिमाचल में ज्यादा ही सक्रिय हैं। इसे मिशन 2017 से जोड़कर भी देखा जा रहा है। राजनीतिक रणनीतिकार मानते हैं कि नड्डा बिना केंद्रीय नेतृत्व और पार्टी हाईकमान के इशारे के यूं ही नहीं हर मंच पर दिख रहे हैं।

  • नड्डा अपने कदम हिमाचल की ओर नपे-तुले तरीके से बढ़ा रहे
  • धूमल ने अपने सांसद पुत्र अनुराग को किया आगे

anuragइसके पीछे सियासी निहितार्थ हैं और निगाहें कहीं न कहीं प्रदेश की बड़ी कुर्सी पर लगी हुई हैं। हों भी क्यों नए चूंकि नड्डा का कद अब पार्टी में उस स्तर पर पहुंच चुका है, जहां से वह कुछ भी हासिल कर सकते हैं। हिमाचल बीजेपी में उनकी राह इसलिए भी आसान हो रही है, क्योंकि नेता विपक्ष प्रेम कुमार धूमल के आड़े अब पीएम नरेंद्र मोदी का 75 साल का पैमाना आ रहा है। इसलिए नड्डा ने अपने कदम हिमाचल की ओर नपे.तुले तरीके से बढ़ाना शुरू कर दिए हैं। मोदी का कोई भी मिशन हो या हिमाचल को दी गई सौगात, नड्डा उसका श्रेय लेने का मौका नहीं चूक रहे। न ही उनकी नीतियों का बखान करने और न ही पार्टी के कार्यक्रमों में भाग लेने में पीछे हैं।

बीजेपी ही नहीं विरोधी भी उनकी धमक को राजनीतिक नजरिये से परख कर गंभीरता से उनके हर कदम को देखने लगे हैं।bjp-logo इससे आने वाले समय में न केवल चुनावी ज़ंग रोचक होगी, बल्कि दलों के भीतर भी कुर्सी को लेकर घमासान मचेगा। यहां यह भी गौर करने वाली बात रहती है कि जब-जब नड्डा प्रदेश में आते हैं,सरकारी कार्यक्रमों के बाद बीजेपी के प्रदेश स्तरीय नेता उनकी तरफ लपक लेते हैं। नड्डा के आने से एक नया धड़ा तो बीजेपी के अंदर बन ही चुका है, जिसमें शांता खेमे से जुड़े नेता भी शामिल हैं। हाल ही में मंडी में बीजेपी की परिर्वतन रैली के दौरान व उससे पहले भी नड्डा ने नए राजनीतिक समीकरणों को जन्म दिया। इस सारे खेल में धूमल को अपने सांसद पुत्र अनुराग ठाकुर को प्रदेश में ज्यादा सक्रिय करना पड़ रहा है। नतीजन पहले के मुकाबले अनुराग प्रदेश की राजनीति में ज्यादा वक्त देने लगे हैं। कुछ भी कहें नड्डा के कदम प्रदेश में बढ़ रहे हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है