Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

इस गांव में नहीं रखा जाता किसी का भी नाम, यूं करते हैं पहचान

इस गांव में नहीं रखा जाता किसी का भी नाम, यूं करते हैं पहचान

- Advertisement -

नई दिल्ली। कहते हैं हमारा नाम (Name)हमारी पहचान होती है और इसी से हमें जाना भी जाता है। लेकिन एक अजीब मामले में एक ऐसा गांव (Village) भी है जहां किसी का भी नाम नहीं है। यहां के लोग किसी को बुलाने के लिए एक अलग तरह ही धुन (Tune)का इस्तेमाल करते हैं और इसी से उनकी पहचान होती है। सुनने में यह अजीब लगेगा लेकिन जब यहां किसी बच्चे (Child) का जन्म होता है तो उसकी मां उसकी पहचान के लिए एक अलग तरह की धुन बनाती है जिससे उसे पहचाना जाता है।

यह भी पढ़ें- इस होटल में आते है रिश्ते से परेशान पति-पत्नी, मिलता है तलाक

मामला मेघालय (Meghalaya)के गांव कांगथोंग का है। यहां के लोग आपस में बातचीत करने के लिए धुन का इस्तेमाल करते हैं। यहां महिला को परिवार का मुखिया (Head of the Family)माना जाता है। जो धुन मां अपने बच्चे की पहचान के लिए रखती है वह बिल्कुल चिड़ियों के चहचहाने जैसी होती है। जब भी कोई बाहरी व्यक्ति इस गांव के आस-पास से गुजरता है तो उसे सिर्फ यहां इसी तरह की धुनें और सीटियों की आवाजें सुनाई देती हैं।


इस गांव में यह परंपरा (tradition) लंबे समय से चली आ रही है। बच्चे का नाम किसी धुन पर रखना मां के दिल से आई भावना होती है। यहां के लोग अलग तरह की आवाजों में सभी से बात करते हैं। इनकी यही परंपरा पीढ़ी दर पीढ़ी आगे बढ़ती जा रही है।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है