Covid-19 Update

58,877
मामले (हिमाचल)
57,386
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,156,748
मामले (भारत)
115,765,405
मामले (दुनिया)

NGT का डंडाः Manali में पूर्व मंत्री की पत्नी के होटल की निशान देही

NGT का डंडाः Manali में पूर्व मंत्री की पत्नी के होटल की निशान देही

- Advertisement -

मनाली। पर्यटक स्थलों पर पर्यावरण से हो रही छेड़छाड़ को रोकने के लिए एनजीटी ने सख्त रूख अपना लिया है। इसी कड़ी के तहत मनाली स्थित पूर्व मंत्री महेंद्र सिंह की पत्नी के होटल पर भी गाज गिरी है। एनजीटी के आदेशों पर मनाली स्थित पूर्व मंत्री महेंद्र सिंह की पत्नी होटल की निशानदेही हुई है।National Green Tribunal

ट्रिब्यूनल का आदेश मिलने के बाद प्रशासनिक अमला गुरुवार को मौके पर पहुंचा और नाप नपाई में जुट गया। एसडीएम मनाली एचआर बेरवा की अगुवाई में राजस्व विभाग, वन विभाग और पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंची और नक्शे का मिलान करते हुए निशानदेही में जुट गई।इसके बाद प्रशासन की ओर से होटल का पूरा रिकॉर्ड बनाकर शुक्रवार सुबह एनजीटी में पेश किया जाएगा। निशानदेही के लिए एसडीएम के अलावा डीएफओ नीरज चड्ढा, तहसीलदार हरीश शर्मा और नायब तहसीलदार किशोर भी मौके पर मौजूद रहे।

एनजीटी संतुष्ट नहीं थी निशानदेही को लेकर

आज एनजीटी के आदेश पर निशानदेही की वीडियोग्राफी की गई। बताया जा रहा है कि मनाली के आलूग्राउंड के पास बने इस होटल में टीसीपी और अन्य नियमों की अवहेलना की गई है। जिसके चलते इस होटल का बिजली और पानी का कनैक्शन पहले ही काट दिया गया है और अब निशानदेही करने के आदेश दिए हैं। हालांकि होटल और होटल के लिए बने मार्ग की निशानदेही इससे पहले भी हो चुकी है। लेकिन बताया जा रहा है कि इस निशानदेही को लेकर एनजीटी संतुष्ट नहीं थी। इतना ही नहीं निशानदेही को लेकर एनजीटी में शिकायतें भी पहुंची थी। जिसके चलते मनाली एसडीएम और होटल मालिक को एनजीटी ने पांच दिसंबर को व्यक्तिगत रूप से दिल्ली स्थित बैंच के समक्ष तलब किया था और इस दौरान एनजीटी ने एसडीएम मनाली को आदेश जारी किए हैं कि होटल की एक बार फिर से निशानदेही करें और इसकी वीडियोग्राफी सहित रिपोर्ट एनजीटी को सौंपें। लिहाजा, गुरुवार को होटल की निशानदेही की गई और इसके बाद प्रशासन ने इसकी रिपोर्ट एनजीटी में पेश करने की तैयारी कर ली है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है