जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों की 100 कंपनियां भेजीं, अलगाववादी नेता यासीन मलिक अरेस्ट

सोमवार को होनी है सुप्रीम कोर्ट में धारा 35-ए पर सुनवाई

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों की 100 कंपनियां भेजीं, अलगाववादी नेता यासीन मलिक अरेस्ट

- Advertisement -

श्रीनगर। आगामी सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में संविधान की धारा 35-ए (Section 35A) पर सुनवाई से पहले सुरक्षा बलों की 100 कंपनियां जम्मू-कश्मीर भेजी गई हैं। प्रशासन ने ऐहतियातन जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (JKLF) के प्रमुख और अलगाववादी नेता यासीन मलिक (Yaseen Malik) को गिरफ्तार कर दिया है। घाटी में पहले ही सुरक्षा बल हाई अलर्ट पर हैं।


यह भी पढ़ें:
बड़ा कदम: ट्रंप ने पाकिस्तान को 1.3 बिलियन डॉलर की आर्थिक सहायता रोकी

यासीन मलिक को शुक्रवार देर रात गिरफ्तार किया गया है। उन्हें श्रीनगर (Sri Nagar) के मैसुमा स्थित घर से गिरफ्तार किया गया। धारा 35-A का प्रावधान जम्मू कश्मीर के बाहर के व्यक्ति को इस राज्य में अचल संपत्ति खरीदने से प्रतिबंधित करता है। संविधान की इस धारा को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में चुनौती दी गई है। इस बीच केंद्र सरकार ने कश्मीर के मौजूदा हालात को देखते हुए अर्द्धसैनिक बलों (Paramilitary Forces) की 100 कंपनियों को रवाना किया है। इसमें सीआरपीएफ की 35, बीएसएफ की 35, एसएसबी की 10 और आईटीबीपी की 10 कंपनियां शामिल हैं।

 

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है