Covid-19 Update

3150
मामले (हिमाचल)
1958
मरीज ठीक हुए
12
मौत
2,085,124
मामले (भारत)
19,392,370
मामले (दुनिया)

अप्रैल में Lockdown के दौरान 21 राज्यों को हुआ 971 अरब का घाटा; जानें Himachal को कितना

लॉकडाउन में 40% अर्थव्यवस्था चल रही है, बड़े पैमाने पर राजस्व का नुकसान हुआ

अप्रैल में Lockdown के दौरान 21 राज्यों को हुआ 971 अरब का घाटा; जानें Himachal को कितना

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से ठप पड़ी हुई है। इस बीच सामने आई इंडिया रेटिंग्स ऐंड रिसर्च की एक रिपोर्ट के अनुसार लॉकडाउन के चलते अप्रैल में भारत के 21 प्रमुख राज्यों को 971 बिलियन (971 अरब) रूपए के राजस्व का नुकसान हुआ है। इस दौरान हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) को 6.5 अरब का घाटा झेलना पड़ा है। हिमाचल के अलावा देश के अन्य प्रमुख राज्यों की बात करें तो महाराष्ट्र (13,187 करोड़ रुपए), उत्तर प्रदेश (11,120 करोड़ रुपए), तमिलनाडु (8,412 करोड़ रुपए), कर्नाटक (7,117 करोड़ रुपए), गुजरात (6,747 करोड़ रुपए), तेलंगाना (5,393 करोड़ रुपए) और राजस्थान (5,920 करोड़ रुपए) का नुकसान हुआ है। बतौर फर्म, लॉकडाउन में 40% अर्थव्यवस्था चल रही है।


सरकारों को मिलने वाली प्राप्तियों की मात्रा और समय के बारे में कोई निश्चितता नहीं है

इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च के प्रमुख अर्थशास्त्री और निदेशक डॉ सुनील कुमार सिन्हा ने बताया कि केंद्र और राज्य, दोनों सरकारें नकदी प्रवाह में कमी के संकट से जूझ रही हैं, लेकिन राज्यों की समस्याएं ज्यादा अनिश्चित हैं क्योंकि Covid-19 के खिलाफ वास्तविक लड़ाई राज्य लड़ रहे हैं और उससे संबंधित खर्च भी वे खुद ही कर रहे हैं। एक मीडिया संस्थान के साथ बातचीत के दौरान सिन्हा ने आगे कहा कि मौजूदा परिस्थितियों में केंद्र सरकार से राज्य सरकारों को मिलने वाली प्राप्तियों की मात्रा और समय के बारे में कोई निश्चितता नहीं है।

लॉकडाउन के दौरान आवश्यक सेवाओं से राजस्व का एक छोटा सा हिस्सा ही प्राप्त हुआ

उन्होंने आगे कहा कि इसके अलावा, राज्यों में राजस्व के अपने खुद के स्रोत अचानक निचले स्तर तक गिर गए हैं। इसके चलते राज्य सरकारों को कई उपाय अपनाने पड़ रहे हैं और राजस्व उत्पन्न करने के नये तरीकों का सहारा लेना पड़ रहा है। गौरतलब है कि राज्यों को लॉकडाउन के दौरान आवश्यक सेवाओं से राजस्व का एक छोटा सा हिस्सा ही प्राप्त हुआ है। एसजीएसटी, वैट, बिजली कर और शुल्क जो मुख्य आय के स्रोत हैं, उनका बड़ा हिस्सा लॉकडाउन के चलते नहीं मिल पाया। इस तरह के बेहद कम कर संग्रह के चलते राज्यों को अप्रैल, 2020 में बड़े पैमाने पर राजस्व का नुकसान हुआ है।

- Advertisement -

loading...
loading...
Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Himachal में फिर बिगड़ेगा मौसम, इस दिन भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी

ब्रेकिंगः HPPSC ने इन पदों के Personality Test की तिथि की घोषित

जयराम बोले, Mission Repeat को सुनिश्चित बनाने के लिए सरकार-संगठन के बीच बेहतर ताल-मेल जरूरी

ऊना विजिलेंस के चार कर्मचारी Corona पॉजिटिव, चिंतपूर्णी मंदिर में तैनात कांगड़ा का होमगार्ड भी संक्रमित

सीएम जयराम की मौजूदगी में  Pawan Rana -Ramesh Dhawala ने साझा किया पार्टी का मंच

Big Breaking: टैट परीक्षाओं का नया शेड्यूल जारी, कौन परीक्षा कब होगी-जानिए

Kullu जिले के इस गांव ने पूरे देश में जमाई धाक, जुड़ी यह बड़ी उपलब्धि

भूतपूर्व सैनिकों के आश्रितों के लिए TGT के पदों पर होगी भर्ती, जल्द करें Apply

क्वारंटाइन हुए Shanta- बोले, मंत्री ही तोड़ रहे नियम, महंगी ना पड़ जाए कहीं लापरवाही

हिमाचल: दो IAS इधर-उधर, अब यह होंगे Excise and Taxation Commissioner

जयराम से मिले Kangra के प्राइवेट बस ऑपरेटर, मिला यह आश्वासन

सुन लो ! Corona ना होता तो Rathore बीजेपी सरकार को घुटने टेकने पर कर देते मजबूर

Power Minister का कोरोना करंटः राज्यपाल ने अगले सात दिन कैंसिल की Appointments

नई शिक्षा नीति पर बोले PM Modi - देश के विकास के लिए लाभदायक साबित होगी

सुखराम चौधरी ने कईयों को वक्त डाला, SP Office के बाद MC Office भी करना पड़ा बंद

loading...
Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

HP : Board

Big Breaking: टैट परीक्षाओं का नया शेड्यूल जारी, कौन परीक्षा कब होगी-जानिए

शिक्षा बोर्ड ने SOS परीक्षाओं के लिए आवेदन तिथि बढ़ाई- जाने नई डेट

कोरोना संकट चलता रहा तो Students को घर पर ही मिल जाएगी वर्दी-बैग

Himachal में यहां मेधावी बेटियों को प्रतियोगी परीक्षाओं की मिलेगी निशुल्क Coaching

Breaking : हिमाचल में अब ई-पीटीएम, अभिभावक रख सकेंगे अपनी बात खुलकर

Covid-19 के चलते HPBOSE ने स्थगित की TET की परीक्षाएं, 2 अगस्त से होनी थी शुरू

9वीं से 12वीं के पाठ्यक्रम में कटौती को कवायद तेज, सरकार को भेजा जाएगा Proposal

Himachal में संस्कृत विश्वविद्यालय के लिए चिन्हित की जा रही जमीन

HPU ने यूजी के छात्रों को दी राहत, घर के नजदीक कॉलेजों में दे सकेंगे परीक्षा

TGT के इन 89 पदों पर होगी बैचवाइज भर्ती, दुर्गम और दूरदराज क्षेत्रों में मिलेगी तैनाती

इस दिन से शुरू होंगी यूजी अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाएं, HPU ने जारी की डेटशीट

HPBOSE ने D.El.Ed CET परीक्षा की Answer Key दोबारा की अपलोड

बड़ी खबरः JBT और शास्त्री टैट की परीक्षा को लेकर बोर्ड का बड़ा फैसला

SOS जमा दो का रिजल्ट आउट, 10वीं और 12वीं के नियमित छात्रों को भी राहत

HPBOSE: टैट की परीक्षा के लिए Admit Card जारी, ऐसे करें डाउनलोड


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है