Covid-19 Update

3874
मामले (हिमाचल)
2555
मरीज ठीक हुए
17
मौत
2,506,247
मामले (भारत)
21,179,055
मामले (दुनिया)

सिर्फ शराब पीने पर लड़के को मिली ऐसी खौफनाक सजा कि जानकर रोंगटे खड़े हो जाएंगे

ईरान का है मामला, एमनेस्टी इंटरनेशनल ने की आलोचना

सिर्फ शराब पीने पर लड़के को मिली ऐसी खौफनाक सजा कि जानकर रोंगटे खड़े हो जाएंगे

×

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत के कई राज्यों में शराबबंदी (Ban on Liquor) के बाद भी धड़ल्ले से शराब बिकती है। लेकिन ईरान (Iran) में 15 साल के लड़के को शराब पीने के आरोप में सरेआम 80 कोड़े की सजा (Whipped) झेलनी पड़ी।


 

यह भी पढ़ें :  OMG! इस बंदे के शरीर में हैं 453 छेद, सभी में पहनी हुई हैं बालियां

 

ईरान के पूर्वी शहर काशमार के एक चौक पर इस लड़के को 80 कोड़े लगाये गये। सरकारी वकीलों का कहना है कि इस शख्स को मार्च-2006 मार्च-2007 के बीच गिरफ्तार किया गया था। अब एमनेस्टी इंटरनेशनल (Amnesty Internation) ने इस मसले पर बयान देकर कहा है कि कोड़े मारना भयावह और आश्चर्यजनक है और ये कदम अंतरराष्ट्रीय कानूनों और नागरिक अधिकारों पर नियमों का उल्लंघन है।

 

यह भी पढ़ें :  सिर से पांव तक भगवा, लेकिन यह व्यक्ति बीजेपी का समर्थक नहीं है

 

एक शादी समारोह में पी थी शराब

एमनेस्टी के मध्य पूर्व और उत्तरी अफ्रीका के डायरेक्टर फिलीप लुथर ने कहा, “चाहे वो किसी भी उम्र का हो, किसी पर भी कोड़े बरसाये नहीं जा सकते हैं। एक बच्चे को शराब पीने का दोषी ठहराया गया और और उसे 80 कोड़े लगाने की सजा दी गई ये बहुत ही खौफनाक है।” काशमार (Kashmar) के सरकारी वकील ने कहा कि एमआर नाम के इस शख्स ने एक शादी समारोह में शराब (Drunk) पी थी। इस समारोह में एक झगड़े में 17 साल के एक बच्चे की मौत भी हुई थी। ईरान के नियम कुछ ऐसे ही हैं, जिन्हें आप गलती से भी अगर पार कर जाते हैं तो आपके साथ क्या हो सकता है ये आप जान भी नहीं पाएंगे।

 

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News















loading...


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है