Covid-19 Update

34,781
मामले (हिमाचल)
27,518
मरीज ठीक हुए
550
मौत
9,177,840
मामले (भारत)
59,514,808
मामले (दुनिया)

बाबा रामदेव बोले – Terrorists की तरह हम पर करा दी FIR, अब बाजार में मिलेगी श्वासारी कोरोनिल किट

बाबा रामदेव बोले – Terrorists की तरह हम पर करा दी FIR, अब बाजार में मिलेगी श्वासारी कोरोनिल किट

- Advertisement -

हरिद्वार। कोरोनिल विवाद के बीच बाबा रामदेव ने कहा है कि विरोधियों को मिर्ची लगी तो देशभर में हमारे खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी गईं, जैसे किसी देशद्रोही और आतंकवादी (Terrorists) के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज होती हैं। लोग कह रहे हैं कि पतंजलि ने पलटी मारी, कोई अनुसंधान नहीं किया और कुछ लोगों ने तो मेरी जाति, धर्म, संन्यास को लेकर और अलग-अलग प्रकार से गंदा वातावरण बनाने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि ऐसे लगता है कि हिंदुस्तान के अंदर आयुर्वेद का काम करना गुनाह हो, हमने योग-आयुर्वेद से यश बढ़ाया, कुछ लोगों को मिर्ची लगती है। आपको आपत्ति है तो बाबा रामदेव (Baba Ramdev) को खूब गाली दो, हम गाली प्रूफ हो चुके हैं। ये बातें उन्होंने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहीं।

ये भी पढ़ें – राजस्थान के बाद अब महाराष्ट्र में भी पतंजलि की ‘Coronil’ पर Ban

 

वहीं, आयुष मंत्रालय की ओर से पतंजलि के दावों पर भेजे नोटिस और प्रचार-प्रसार पर रोक लगाने संबंधी विवादों का पटाक्षेप हो गया है। बाबा रामदेव ने बताया कि आयुष मंत्रालय के साथ सभी चीजों का समाधान हो गया है। आज से कोरोनिल और श्वासारी वटी मिलनी शुरू हो जाएंगी। उनका कहना है कि इससे सभी विरोधियों के मंसूबों पर पानी फिर गया है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि ड्रग माफिया चाहता था कि कोरोनिल और श्वासारि बैन हो। बाबा रामदेव ने बीती 23 जून को कोरोनिल (Coronil) का ऐलान किया था, दावा किया गया था इससे कोरोना मरीज एक हफ्ते के अंदर रिकवर हो सकते हैं। बाबा रामदेव के इस दावे पर विवाद हो गया, यहां तक कि केंद्र सरकार और कुछ राज्य सरकारों ने भी बाबा रामदेव के दावों को गलत बताया था। इसके बाद पतंजलि (Patanjali) ने कहा कि यह कोरोना की दवा नहीं,बल्कि इम्यूनिटी बूस्टर है। बुधवार को इस मसले पर बाबा रामदेव ने आचार्य बालकृष्ण (Acharya Balakrishna) के साथ मिलकर एक बार फिर हरिद्वार में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। बाबा रामदेव ने इस दौरान जहां ये कहा कि उन्होंने क्लीनिकल ट्रायल (Clinical trial) से लेकर रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के नियमों को पालन किया हैए वहीं वो आलोचकों पर भी जमकर बरसते दिखे।

 

 

बाबा रामदेव ने आयुष मंत्रालय के बयान का हवाला देते हुए कहा कि कोरोना से तड़पती मानवता के लिए पतंजलि ने एक सही दिशा में जो काम करना शुरू किया है, मैं नहीं कहता कि प्रशंसा कीजिए, लेकिन हमारा तिरस्कार तो मत कीजिए। उन्होंने कहा कि पतंजलि ने कोरोनिल पर कंट्रोल डबल ब्लाइंड क्लीनिकल ट्रायल किया है, उसमें तीन दिन में 69 फीसदी और 7 दिन में 100 फीसदी पेशेंट नेगेटिव (Negtive) हो गए। उसका पूरा डाटा हमने आयुष मंत्रालय (Ministry of AYUSH) को दे दिया, सभी अप्रूवल हमने आयुष मंत्रालय को सब्मिट कर दिए हैं। बाबा ने गुस्से में ये भी कहा कि अभी हमने कोरोना (Corona) के बारे में एक ट्रायल का डाटा सामने रखा तो तूफान आ गया। ड्रग माफियाओं को लगा कि रिसर्च का काम तो टाई वाले करते थे, लेकिन लंगोटी पहनने वाले कैसे करने लगे, क्या तुमने का ठेका ले रखा है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है