Covid-19 Update

36,659
मामले (हिमाचल)
28,754
मरीज ठीक हुए
579
मौत
9,266,697
मामले (भारत)
60,719,949
मामले (दुनिया)

पुराने रिश्ते के बुरे अनुभव खराब तो नहीं कर रहे आपका Relationship , ऐसे संभालें

पुराने रिश्ते के बुरे अनुभव खराब तो नहीं कर रहे आपका Relationship , ऐसे संभालें

- Advertisement -

नई दिल्ली। जिंदगी में हम सभी किसी न किसी के साथ रिश्ते (Relationship) में आते हैं लेकिन जरूरी नहीं कि हमारा रिलेशन अच्छा ही हो, कभी कभी इंसान एक रिश्ते में ऐसा घुटन महसूस करने लगता है कि उसे छोड़ कर जाना ही उसे बेहतर लगता है।  लेकिन इस रिश्ते के कुछ ऐसे बुरे अनुभव होते है जो वह कभी नहीं भुला सकता ऐसे में वह अपने अगले रिश्ते में उन सब चीजों के होने के डरने लगता है जो सब उसने पहले सहन किया है। लेकिन पार्टनर (Partner) अपनी बात खुल कर नहीं कह पता। अगर आप या आपका पार्टनर भी कभी रिलेशनशिप के बुरे अनुभवों से गुजरा है तो हम आपको यहां बताने जा रहे हैं कि कैसे आप अपने पार्टनर को उन बुरे अनुभवों से उबरने में मदद कर सकते हैं।

पार्टनर का ख्याल रखें और उसका दिल जीतने की कोशिश करें।

अगर आप इस बात को लेकर परेशान रहते हैं कि आपका पार्टनर आपसे कुछ बातें छिपा रहा है या रही है तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं हैं। इसके लिए आप उसको दोष न दें। क्योंकि जो लोग ऐसे रिश्तों का शिकार होते हैं उनके दिमाग में पुरानी बातें आती हैं और वो इससे परेशान हो जाते हैं, जो उनके चेहरे में दिखने लगता है। इसका कारण पूछने पर पार्टनर नहीं बताता क्योंकि उसको आगे के रिश्ते को लेकर डर होता है। ऐसे में आप अपने पार्टनर का ख्याल रखें और उसका दिल जीतने की कोशिश करें।

रिश्ते में रुचि रखने पर संदेह करने की बजाय उसे प्यार दें

एक बार जो भरोसा (Trust) टूट जाता है उसे दोबारा हासिल करने में बहुत वक्त लगता है। पार्टनर अतीत में जिस बुरे अनुभव का शिकार हुआ है उसके कारण वह सामने वाले पर भी भरोसा नहीं कर पाता है। इसलिए उसकी वफादारी (Loyality) या रिश्ते में रुचि रखने पर संदेह करने की बजाय आप उसे और ज्यादा प्यार दें और खुश रखें। एक दिन ऐसा होगा जब सब कुछ ठीक हो जाएगा।

साथी के और करीब आने का प्रयास करें

कई बार छोटी-छोटी बातों के कारण दोनों लोगों में मन मुटाव जैसी स्थिति बन जाती है। अगर इस पर आपका पार्टनर आपकी केयर नहीं करता और आपके पास नहीं आता तो वह पुराने अनुभवों से प्रेरित हो सकता है। ऐसे में मन में इसका बुरा न मानें और यह ना सोचें  कि वह आपसे प्यार नहीं करता या आपके प्रति प्रतिबद्ध नहीं है। पुराने अनुभव उसके ऐसा करने से रोकते हैं, जिसकी वजह से वह खुलकर कोई निर्णय नहीं ले पाता। ऐसे में आपने साथी के और करीब आने का प्रयास करें, जिससे कि वो आपको अपने दिल की बात बता सके और सहज हो सके।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है