Covid-19 Update

41,229
मामले (हिमाचल)
32,309
मरीज ठीक हुए
656
मौत
9,499,710
मामले (भारत)
64,194,692
मामले (दुनिया)

#Badrinath पहुंचे #Yogi_Adityanath, पूजा-अर्चना कर किया यूपी पर्यटक आवास गृह का शिलान्यास

तीर्थ यात्रियों और पर्यटकों को मिलेंगी उच्च स्तरीय आवास एवं खानपान की सुविधाएं

#Badrinath पहुंचे #Yogi_Adityanath, पूजा-अर्चना कर किया यूपी पर्यटक आवास गृह का शिलान्यास

- Advertisement -

देहरादून। सीएम योगी आदित्यनाथ और सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत (CM Trivendra Singh Rawat ) केदारनाथ के बाद आज बद्रीनाथ (Badrinath) पहुंचे और करीब 45 मिनट तक धाम में पूजा-अर्चना की। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नर और नारायण पर्वत के बीच अलकनंदा के किनारे बसा यह पवित्र बद्रीनाथ धाम हजारों वर्षों से भारत की सनातन आस्था का केंद्र है। आज मुझे यहां आकर न केवल भगवान बद्रीनाथ के दर्शनों का सौभाग्य प्राप्त हुआ है, साथ ही यूपी पर्यटक गृह के शिलान्यास का भी अवसर मिल रहा है। योगी बोले- उत्तराखंड में पर्यटन और श्रद्धा दोनों को सम्मान देने के लिए और पर्यटन की संभावनों को विकसित करने के लिए जो प्रयास किए जा रहे हैं, वो अतुलनीय हैं। केदारनाथ में भी अद्भुत परिवर्तन देखने को मिला। केदारनाथ अपने पुरातन वैभव में दिखा। मैं उत्तराखंड सरकार और उनकी पूरी टीम को बधाई देता हूं।

यह भी पढ़ें: शीतकाल के लिए बंद हुए #गंगोत्री_धाम के कपाट, मां गंगा की भोग मूर्ति की डोली मुखबा रवाना

सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath ) ने अलकनंदा किनारे ब्रह्मकपाल में अपने पितरों को तर्पण दिया। इसके बाद योगी ने बद्रीनाथ धाम में उत्तर प्रदेश पर्यटक आवास गृह का शिलान्यास किया। बद्रीनाथ धाम आने वाले तीर्थ यात्रियों और पर्यटकों को अब उच्च स्तरीय आवास एवं खानपान की सुविधाएं मिलेंगी। उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग की ओर से बद्रीनाथ धाम में चार हजार वर्ग मीटर क्षेत्रफल में पर्यटन आवास गृह का निर्माण किया जाएगा। इसकी लागत लगभग 11 करोड़ रुपये है। बद्रीनाथ में हेलीपैड व राष्ट्रीय राजमार्ग के समीप चार हजार वर्गमीटर क्षेत्रफल में उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग की ओर से पर्यटकों की सुविधा के लिए पर्यटन आवास गृह का निर्माण किया जाएगा। इससे उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड समेत देश-दुनिया से आने वाले पर्यटकों को बद्रीनाथ धाम में ठहरने की बेहतर सुविधा मिलेगी। हालांकि, उत्तराखंड पर्यटन विभाग की ओर से भी यहां पर पर्यटन आवास गृह की सुविधा है, लेकिन यात्रा सीजन के दौरान तीर्थ यात्रियों की संख्या बढ़ने पर ठहरने की व्यवस्था कम पड़ जाती थी। जिससे पर्यटकों को दर्शन करने के बाद वापस जोशीमठ आना पड़ता था। यूपी पर्यटन आवास गृह में पर्यटकों के लिए 40 कमरों बनाए जाएंगे। इसमें दिव्यांगों के लिए अलग से कमरों की व्यवस्था होगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है