Covid-19 Update

34,781
मामले (हिमाचल)
27,518
मरीज ठीक हुए
550
मौत
9,170,900
मामले (भारत)
59,245,882
मामले (दुनिया)

Speak up India: सोनिया बोलीं- सरकार की ऐसी बेरुखी कभी नहीं देखी; राहुल ने उठाई ये 4 मांगें

Speak up India: सोनिया बोलीं- सरकार की ऐसी बेरुखी कभी नहीं देखी; राहुल ने उठाई ये 4 मांगें

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच देश के प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस (Congress) की तरफ से गुरूवार को एक ऑनलाइन कैंपेन चलाया गया। पार्टी ने इसे स्पीक अप इंडिया (Speak up India) नाम दिया गया है। इसी कार्यक्रम के तहत आज कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और उनके बेटे और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक वीडियो जारी किया। इस कैंपेन की शुरुआत करते हुए सोनिया गांधी ने सरकार पर गरीबों के दर्द का अहसास नहीं होने का आरोप लगाते हुए कहा कि मजदूरों को मुफ्त परिवहन सेवा उपलब्ध कराने के साथ ही गरीब परिवारों और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उपक्रमों (एमएसएमई) की तत्काल वित्तीय मदद की जाए।

यह भी पढ़ें: अब हरिद्वार में भी होगी Covid-19 की जांच, प्रवासियों के लिए बनाया Institutional Quarantine Center

खज़ाने का ताला खोलिए और ज़रूरत मंदों को राहत दीजिए

कांग्रेस अध्यक्षा ने सरकार से यह आग्रह भी किया कि वह मनरेगा के तहत 200 कामकाजी दिन सुनिश्चित करे और सभी जरूरतमंदों के लिए राशन का प्रबंध करे। सोनिया ने प्रवासी मजदूरों की घर वापसी के मसले पर सरकार को घेरते हुए कहा कि पिछले दो महीने कोरोना वायरस के कारण पूरा देश गंभीर आर्थिक संकट से गुजर रहा है। आजादी के बाद पहली बार दर्द का मंजर सबने देखा कि लाखों मजदूर नंगे पांव भूखे-प्यासे हजारों किलोमीटर पैदल चलकर घर जाने के लिए मजबूर हुए। उनकी पीड़ा-सिसकी को देश के हर दिल ने सुना, लेकिन शायद सरकार ने नहीं। बकौल सोनिया, हमारा केंद्र सरकार से फिर आग्रह है कि खज़ाने का ताला खोलिए और ज़रूरत मंदों को राहत दीजिए। हर परिवार को छः महीने के लिए 7,500 रुपए प्रतिमाह सीधे कैश भुगतान करें और उसमें से 10,000 रुपए फौरन दें।

यह भी पढ़ें: पहली बार Plane में बैठकर घर पहुंचे 177 प्रवासी मजदूर, Mumbai से Ranchi उतरी फ्लाइट

हिंदुस्तान के लोगों को कर्ज की नहीं, बल्कि पैसे की जरूरत है

It's time for every Indian to stand together & speak up in one voice. #SpeakUpIndia for our brothers & sisters struggling for survival;for those whose voice has been silenced;for those in despair & are fearful. We are India. Together we can make a difference.

Gepostet von Rahul Gandhi am Donnerstag, 28. Mai 2020

वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने भी स्पीक अप इंडिया कैंपेन के तहत एक वीडियो सन्देश जारी किया। इस वीडियो सन्देश में राहुल गांधी ने कहा कि कोविड के कारण देश में आज एक तूफान आया है, गरीब जनता को चोट लगी है। मजदूरों को भूखा-प्यासा सड़कों पर चलना पड़ रहा है। छोटे कारोबार रीढ़ की हड्डी हैं, जो बंद हो रहे हैं। ऐसे में आज हिंदुस्तान के लोगों को कर्ज की जरूरत नहीं है, बल्कि पैसे की जरूरत है।

राहुल गांधी ने कहा कि मुश्किल के इस समय में कांग्रेस पार्टी सरकार से आज चार मांग करती हैं

  1. • हर गरीब परिवार के खाते में 7500 रुपये प्रति महीना 6 महीने तक दिया जाए।
  2. • मनरेगा को सौ दिन की बजाय दो सौ दिन तक किया जाए।
  3. • छोटे कारोबारियों के लिए एक पैकेज का ऐलान किया जाए।
  4. • घर लौटते हुए मजदूरों को सुविधा दी जाए।

राहुल गांधी के अलावा उनकी बहन और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने भी अपने ट्विटर हैंडल पर इस तरह का वीडियो डाला। प्रियंका ने कहा कि आज गरीब मजदूर मुश्किल में है और सरकार उसकी मदद नहीं कर रही है। प्रियंका गांधी ने भी सरकार के सामने चार मांग रखीं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group..

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है