Covid-19 Update

35,812
मामले (हिमाचल)
28,045
मरीज ठीक हुए
572
मौत
9,221,998
मामले (भारत)
60,102,811
मामले (दुनिया)

कश्मीर मसले पर बयान देकर फंसे ट्रंप, भारत ने कहा – तीसरे पक्ष का दखल मंजूर नहीं

कश्मीर मसले पर बयान देकर फंसे ट्रंप, भारत ने कहा – तीसरे पक्ष का दखल मंजूर नहीं

- Advertisement -

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कश्मीर मसले में मध्यस्थता पर अपने ही बयान को लेकर फंस गए हैं। ट्रंप के बयान को पहले भारत ने गलत बताया और बाद में कई अमेरिकी सांसदों की तरफ से भी ट्रंप की आलोचना की गई। विदेश मंत्रालय ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) के इस दावे को खारिज कर दिया है कि पीएम मोदी ने कश्मीर मुद्दे पर उनसे मध्यस्थता (Mediation) करने का आग्रह किया है। मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने साफ कहा कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान का द्विपक्षीय मुद्दा है और इस पर तीसरे पक्ष का कोई दखल मंजूर नहीं किया जा सकता।

यह भी पढ़ें- अनंतनाग : महबूबा मुफ्ती के चचेरे भाई पर आतंकी हमला, पीएसओ की मौत

प्रवक्ता के मुताबिक, इस मसले पर पीएम नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति से कभी किसी तरह का आग्रह नहीं किया। यह भारत का स्पष्ट रुख रहा है कि पाकिस्तान के साथ सारे मसलों पर सिर्फ द्विपक्षीय बातचीत की जा सकती है। साथ ही किसी भी तरह के संवाद के लिए पाकिस्तान (Pakistan) को सीमापार आतंकवाद पर लगाम लगानी होगी। भारत और पाकिस्तान के बीच सभी मुद्दे शिमला समझौते और लाहौर घोषणापत्र के आधार पर ही हल किए जा सकते हैं। हालांकि ट्रंप के बयान के बाद अमेरिका का विदेश मंत्रालय हरकत में आ गया और उन्होंने एक बयान जारी किया, जिसमें कहा गया कि कश्मीर का मुद्दा भारत और पाकिस्तान के बीच एक द्विपक्षीय मुद्दा है। अमेरिका चाहता है कि दोनों देश एक मेज पर आकर इस मसले पर बात करें।

बता दें कि व्हाइट हाउस के ओवल ऑफिस में इमरान के साथ जब डोनाल्ड ट्रंप प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे तो उन्होंने कश्मीर मसले (Kashmir issue) पर भी बात की। ट्रंप बोले, ‘’मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दो हफ्ते पहले मिला था और हमने इस मुद्दे पर बात की थी. उन्होंने मुझसे पूछा था कि क्या आप मध्यस्थता करेंगे। मैंने कहा किस पर तो उन्होंने (मोदी) कहा कि कश्मीर। उन्होंने (मोदी) कहा कि बहुत वर्षों से ये विवाद चल रहा है। वो (पाकिस्तान) मुद्दों का हल चाहते हैं और आप भी इसका हल चाहते हैं। मैंने कहा कि मुझे इस मुद्दे में मध्यस्थता करके खुशी होगी।’

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है