नियम : बारिश के मौसम में फ्री में बनवाएं अंडर वारंटी कार, इनकार नहीं कर सकती कंपनी

वारंटी खत्म होने पर इंश्योरेंस कंपनी से क्लेम हासिल किया जा सकता है

नियम : बारिश के मौसम में फ्री में बनवाएं अंडर वारंटी कार, इनकार नहीं कर सकती कंपनी

- Advertisement -

 


नई दिल्ली। बारिश के मौसम (Rainy Season) में वाहनों का खराब होना आम बात है और अगर आपकी गाड़ी पुरानी हो तो यह खार्च आपके लिए कभी-कभी महंगा पड़ जाता है। लेकिन क्या आपको इस बात का पता है कि अगर आपकी कार अंडर वारंटी (Under Warrenty Car) है और खराब हो जाती है तो आप इसे कंपनी में ले जाकर बनवा सकते हैं और वो भी बिलकुल मुफ्त (Free)। जी हैं यह सच है। दरअसल कोई भी कंपनी बारिश को एक्ट ऑफ गॉड बताकर अंडर वारंटी कार या बाइक की फ्री रिपेयरिंग (Free Repairing) से इनकार नहीं कर सकती। वहीं वारंटी खत्म होने पर इंश्योरेंस कंपनी से क्लेम हासिल किया जा सकता है। वहीं अगर कोई कंपनी ऐसा मानने से इनकार करती है तो इरडा जाया जा सकता है। वहीं अगर पीड़ित पक्ष इरडा के फैसले से संतुष्ट नहीं है, तो कंज्यूमर कोर्ट (Consumer Court) का दरवाजा खटखटा सकता है।

 

यह भी पढ़ें: उन्नाव: सीबीआई ने मांगी सेंगर की कस्टडी, जांच के लिए 15 दिन का समय मिला

 

बता दें कि मैन्युफैक्चरिंग कंपनी बारिश को एक्ट ऑफ गॉड यानी प्राकृतिक आपदा बताकर अंडर वारंटी कार या बाइक की रिपेयरिंग करने से इनकार नहीं कर सकती है। बारिश हर साल होती है, यह कोई एक्ट ऑफ गॉड नहीं है। कंपनी सिर्फ एक्ट ऑफ गॉड पर ही अंडर वारंटी वाहन की रिपेयरिंग से इनकार कर सकती है। अगर कंपनी बारिश में खराब हुई अंडर वारंटी कार या बाइक को मुफ्त में रिपेयर करने से मना करती हैं, तो उनके खिलाफ कंज्यूमर कोर्ट में केस किया जा सकता है। साल 2017 में दिल्ली की एक कंज्यूमर कोर्ट ने ऐसे ही मामले में मारुति सुजुकी पर 60 हजार रुपये का जुर्माना लगाया था। अगर किसी की कार या बाइक को बारिश के पानी से नुकसान पहुंचा है और वारंटी खत्म हो गई है, तो वह इंश्योरेंस कंपनी से क्लेम हासिल कर सकता है। इसके लिए जरूरी है कि उस कार या बाइक की सेफ्टी के लिए इंश्योरेंस कराया गया हो।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

राजगढ़ में कांग्रेस का लोकतंत्र बचाओ मार्च, जोरदार नारेबाजी के बीच माहौल बनाने पर जोर

सीएम जयराम के गृह जिला के इस स्कूल में 4 माह से खाली है अध्यापकों के पद

फिलीपींस में 6.4 तीव्रता का भूकंप, पांच की मौत, कई घायल

लगघाटी में पहाड़ी से गिरा पत्थरः सड़क से नीचे गिरा सवार, बाइक के उड़े परखच्चे

खुदाई करने वाली मशीन से टकराई बस, 35 तीर्थयात्रियों की मौत

बिना बिल और टैक्स भुगतान किए ले जा रहा था 20 लाख के आभूषण, कारोबारी पर एक लाख जुर्माना

पांच बीवियों का खर्च नहीं उठा पाया तो बन गया ठग, एम्स में नौकरी के बहाने लड़कियों से ऐंठता था पैसे

कांगड़ा और ऊना में कार्यरत पंजाब के इन कर्मचारियों को अवकाश घोषित

काम में कौताही पर पंचायत प्रधान और वार्ड सदस्य बर्खास्त

संतोषगढ़ के चौकी प्रभारी लाइन हाजिर, एसपी के आदेशों को हल्के में ले रहे थे

सेल्फी ले रही दो सहेलियां पार्वती नदी में बही, एक बच निकली दूसरी का अता-पता नहीं

शांता क्यों बोले ,जीवन के अंतिम पड़ाव पर मुझे किसी से भी प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं

धूमल बोलेः कागजी सवाल करते हैं कांग्रेसी, कागजों में बनती है राजधानी

ऊना में नशा माफियाः अवैध शराब, चरस और प्रतिबंधित दवाओं सहित दो धरे

महिला मौत मामलाः एसएचओ हमीरपुर ने शव ले जा रहे लोगों पर क्यों तानी पिस्टल, होगी जांच

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है