नियम : बारिश के मौसम में फ्री में बनवाएं अंडर वारंटी कार, इनकार नहीं कर सकती कंपनी

वारंटी खत्म होने पर इंश्योरेंस कंपनी से क्लेम हासिल किया जा सकता है

नियम : बारिश के मौसम में फ्री में बनवाएं अंडर वारंटी कार, इनकार नहीं कर सकती कंपनी

- Advertisement -

 


नई दिल्ली। बारिश के मौसम (Rainy Season) में वाहनों का खराब होना आम बात है और अगर आपकी गाड़ी पुरानी हो तो यह खार्च आपके लिए कभी-कभी महंगा पड़ जाता है। लेकिन क्या आपको इस बात का पता है कि अगर आपकी कार अंडर वारंटी (Under Warrenty Car) है और खराब हो जाती है तो आप इसे कंपनी में ले जाकर बनवा सकते हैं और वो भी बिलकुल मुफ्त (Free)। जी हैं यह सच है। दरअसल कोई भी कंपनी बारिश को एक्ट ऑफ गॉड बताकर अंडर वारंटी कार या बाइक की फ्री रिपेयरिंग (Free Repairing) से इनकार नहीं कर सकती। वहीं वारंटी खत्म होने पर इंश्योरेंस कंपनी से क्लेम हासिल किया जा सकता है। वहीं अगर कोई कंपनी ऐसा मानने से इनकार करती है तो इरडा जाया जा सकता है। वहीं अगर पीड़ित पक्ष इरडा के फैसले से संतुष्ट नहीं है, तो कंज्यूमर कोर्ट (Consumer Court) का दरवाजा खटखटा सकता है।

 

यह भी पढ़ें: उन्नाव: सीबीआई ने मांगी सेंगर की कस्टडी, जांच के लिए 15 दिन का समय मिला

 

बता दें कि मैन्युफैक्चरिंग कंपनी बारिश को एक्ट ऑफ गॉड यानी प्राकृतिक आपदा बताकर अंडर वारंटी कार या बाइक की रिपेयरिंग करने से इनकार नहीं कर सकती है। बारिश हर साल होती है, यह कोई एक्ट ऑफ गॉड नहीं है। कंपनी सिर्फ एक्ट ऑफ गॉड पर ही अंडर वारंटी वाहन की रिपेयरिंग से इनकार कर सकती है। अगर कंपनी बारिश में खराब हुई अंडर वारंटी कार या बाइक को मुफ्त में रिपेयर करने से मना करती हैं, तो उनके खिलाफ कंज्यूमर कोर्ट में केस किया जा सकता है। साल 2017 में दिल्ली की एक कंज्यूमर कोर्ट ने ऐसे ही मामले में मारुति सुजुकी पर 60 हजार रुपये का जुर्माना लगाया था। अगर किसी की कार या बाइक को बारिश के पानी से नुकसान पहुंचा है और वारंटी खत्म हो गई है, तो वह इंश्योरेंस कंपनी से क्लेम हासिल कर सकता है। इसके लिए जरूरी है कि उस कार या बाइक की सेफ्टी के लिए इंश्योरेंस कराया गया हो।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

रायजादा मामले में जांच से एसपी को हटाया : विपक्ष ने फिर भी काटा हंगामा, वाकआउट किया

सड़क किनारे खड़े ट्रक से टकराई कार : एक की मौत, दूसरे की हालत खराब

मनाली-लेह एनएच पर भूस्खलन की चपेट में आया टैंकर, दोनों तरफ सैकड़ों वाहन फंसे

100 मीटर दूरी न पाट पाया भारतीय दूतावास, 8 साल से सऊदी में फंसा है हिमाचली युवक

बीजेपी ने हिमाचल में बढ़ा लिया दस लाख का कुनबा, अभियान को विराम देने आए शिवराज

नूरपुर : डन्नी में खतरा बरकार, बांध में बार-बार भर रहा पानी, प्रशासन मौके पर

सीएम कमलनाथ का भांजा रतुल पुरी 354 करोड़ के बैंक घोटाले के आरोप में गिरफ्तार

मणिमहेश को आज से शुरू होगी हेली टैक्सी, इतना लगेगा किराया

चक्की खड्ड के पास के गांवों में खतरे की घंटी, खाली करने की सलाह

ननखड़ी में बोलेरो खाई में गिरी, एक महिला की मौत-पांच घायल

मानसून सत्रः हिमाचल में बनेगी जल परिवहन नीति, खरीदे जाएंगे स्टीमर

बारिश के जख्मों पर मरहम-पीडब्ल्यूडी, आईपीएच और बिजली बोर्ड को 15 करोड़ जारी

चंडीगढ़-मनाली नेशनल हाईवे 43 घंटों के बाद बहाल, दौड़ी गाड़ियां

सरकार ने किया साफः नहीं भरे जाएंगे फीमेल हेल्थ वर्कर्ज के बेचवाइज पद

चंद्रताल में फंसे 127 पर्यटक रेस्क्यू, काजा मार्ग पर 300 की अभी भी अटकी हैं सांसे

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है