सरकार का दावा: यशवंत, शौरी और प्रशांत भूषण ने राफेल डील के दस्तावेज चुराए

सुप्रीम कोर्ट में दायर हलफनामे में रक्षा मंत्रालय ने किया दावा

सरकार का दावा: यशवंत, शौरी और प्रशांत भूषण ने राफेल डील के दस्तावेज चुराए

- Advertisement -

नई दिल्ली। राफेल सौदे (Rafale Deal) के कागज लीक होने के मामले में केंद्र सरकार ने याचिकाकर्ता यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी, प्रशांत भूषण पर संवेदनशील दस्तावेजों की चोरी करनले और उनकी फोटो कॉपी (Xerox Copy) करवाने का आरोप लगाया है। रक्षा मंत्रालय ने बुधवार को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में हलफनामा देकर कहा कि सरकार की मर्जी के बगैर राफेल के संवेदनशील दस्तावेजों की फोटो कॉपी की गई, जिसे चोरी से ऑफिस से बाहर ले जाया गया।

यह भी पढ़ें: राफेल पर पलटी सरकार, कहा- दस्तावेज चोरी नहीं, लीक हुए हैं


आंतरिक जांच शुरू

सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से साफ कहा कि जिन लोगों ने याचिका में नत्थी करने के लिए बिना अनुमति संवेदनशील दस्तावेजों (Documents) की फोटो कॉपी करने की साजिश की, उन्होंने चोरी की है। हलफनामे में कहा गया कि याचिकाकर्ता यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी, प्रशांत भूषण (Prashant Bhushan) संवेदनशील सूचनाएं लीक करने के दोषी हैं। कोर्ट को बताया गया, ‘इस तरह दस्तावेज लीक किए जाने से संप्रभुता और विदेशी संबंध पर विपरीत असर हुआ है। मामले की आंतरिक जांच शुरू कर दी गई है।’

यह भी पढ़ें: राफेल पर राहुल का अटैक, सरकार का काम है गायब करना


पहले यह कहा था अटॉर्नी जनरल ने

हलफनामे में रक्षा मंत्रालय ने कहा कि राफेल समीक्षा केस में याचिकाकर्ताओं द्वारा सामने रखे गए दस्तावेज राष्ट्रीय सुरक्षा के लिहाज से संवेदनशील हैं, जो लड़ाकू विमान की युद्धक क्षमता से संबंधित हैं। इससे पहले अटॉर्नी जनरल (Attorney General) केके वेणुगोपाल की इस टिप्पणी ने राजनीतिक भूचाल ला दिया था कि राफेल लड़ाकू विमान के सौदे के दस्तावेज चुरा लिए गए हैं। हालांकि बाद में अटॉर्नी जनरल ने दावा किया कि राफेल दस्तावेज रक्षा मंत्रालय से चुराए नहीं गए और सुप्रीम कोर्ट में उनकी बात का मतलब यह था कि याचिकाकर्ताओं ने आवेदन में उन मूल कागजात की फोटो कॉपी का इस्तेमाल किया, जो गोपनीय हैं।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है