Covid-19 Update

38,327
मामले (हिमाचल)
28,993
मरीज ठीक हुए
602
मौत
9,325,786
मामले (भारत)
61,598,991
मामले (दुनिया)

चक्रवात ‘निसर्ग’ को देखते हुए IMD ने मुंबई समेत 7 ज़िलों के लिए जारी किया Red Alert

चक्रवात ‘निसर्ग’ को देखते हुए IMD ने मुंबई समेत 7 ज़िलों के लिए जारी किया Red Alert

- Advertisement -

मुंबई। देश में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर महाराष्ट्र में सबसे अधिक देखने को मिल रहा है। वहीं अब महाराष्ट्र (Maharashtra) पर एक और आफत आ गई है, जिसका नाम है चक्रवात निसर्ग। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने चक्रवात ‘निसर्ग’ (Nisarga) के कारण महाराष्ट्र में मुंबई व 6 अन्य ज़िलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। बतौर विभाग, ‘3 जून को ‘निसर्ग’ का लैंडफॉल होगा, 115 किलोमीटर/घंटा की गति से तेज़ हवाएं चलेंगी जिससे मुंबई में ढांचागत नुकसान हो सकता है।’ मंगलवार शाम तक ‘निसर्ग’ के गंभीर चक्रवाती तूफान बनने की आशंका है।

वर्ली में शिफ्ट किए गए कोविड के मरीज

अब यह अलर्ट जारी किए जाने के बाद महामारी से जूझ रहे महाराष्ट्र को चक्रवात से होने वाले आगामी नुकसान को कम करने के लिए तैयारियों में जुटना पड़ा है। मुंबई में चक्रवात निसर्ग को देखते हुए कोरोना वायरस के मरीजों को बॉम्बे कुर्ला कॉम्प्लेक्स (BKC) से वर्ली में शिफ्ट किया गया है।

यह भी पढ़ें: Pulwama के त्राल में सुरक्षाबलों ने मार गिराए दो Terrorist

बता दें कि मुंबई का BKC थोड़ा निचला इलाका है, ऐसे में यहां अगर तूफान की वजह से तेज बारिश होती है। तो पानी जमा होने का खतरा हो सकता है, ऐसे में अस्पताल में आना-जाना, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने जैसे नियमों को लेकर दिक्कत आ सकती है। इस वजह से मरीजों को सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट किया गया है।

परमाणु ऊर्जा संयंत्रों की सुरक्षा के लिए एहतियात बरती जा रही

निसर्ग के खतरे से निपटने के लिए आधा दर्जन से अधिक जिलों में नेशनल डिजास्टर रेस्पॉन्स फोर्स (NDRF) की कुल 23 टीमों को तैनात किया गया है। चक्रवाती तूफान ‘निसर्ग’ के खतरे को देखते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने इससे निपटने की तैयारियों को लेकर नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (NDMA) के अधिकारियों और प्रभावित होने वाले राज्यों के सीएम के साथ बैठक की। इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में उन्होंने हर संभव मदद का भरोसा दिया। महाराष्ट्र के तटीय पालघर और रायगढ़ जिलों में स्थित रासायनिक और परमाणु ऊर्जा संयंत्रों की सुरक्षा के लिए पर्याप्त एहतियात बरती जा रही है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है