Covid-19 Update

39,406
मामले (हिमाचल)
30,470
मरीज ठीक हुए
632
मौत
9,393,039
मामले (भारत)
62,573,188
मामले (दुनिया)

महबूबा मुफ़्ती ने जहरीले बोल: पाक-चीन के साथ शांति कायम कर सकता है J&K

बोलीं- पीडीपी का हमेशा अजेंडा रहा है कि जम्मू-कश्मीर अमन का पुल बनना चाहिए

महबूबा मुफ़्ती ने जहरीले बोल: पाक-चीन के साथ शांति कायम कर सकता है J&K

- Advertisement -

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 (Article 370) के कुछ प्रावधानों में तब्दीली के बाद तकरीबन 14 महीनों तक पीपुल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट (पीडीपी) की अध्यक्षहबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) नजरबंद रहीं। 14 महीनों बाद जब वह मीडिया के बीच आईं तो उन्होंने भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे को लेकर विवादित बयान दे दिया। अब फिर से महबूबा ने कश्मीर के युवाओं को उग्र करने वाला बयान दिया है।

कश्मीरियों पर थोपे जा रहे हैं कानून, हम ये बर्दाश्त नहीं करेंगे

महबूबा मुफ्ती ने मंगलवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर भारत, पाकिस्तान और चीन के बीच प्यार और शांति का सेतु बनना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘कश्मीरी युवाओं के भविष्य की रक्षा के लिए, हम किसी भी हद तक जाएंगे। पहले सभी कानून जनता के परामर्श से बनाए गए थे और वे लोगों के अनुकूल थे। लेकिन, अब कश्मीरियों के लिए कानून बनाए जा रहे हैं, जो उनके अस्तित्व के खिलाफ हैं और हम उसे बर्दाश्त नहीं करेंगे।’ महबूबा मुफ्ती ने यह भी कहा, ‘पीडीपी का हमेशा अजेंडा रहा है कि जम्मू-कश्मीर अमन का पुल बनना चाहिए। हमारे हमसाया मुल्क चाहे पाकिस्तान हो अभी चीन ने एलएसी से अंदर आ रहे हैं। मुफ्ती साहब का ख्वाब रहा कि जम्मू-कश्मीर को हिंदुस्तान और हमसाया मुल्क के बीच पुल बनाना होगा। मरकजी सरकार (केंद्र सरकार) को वही फॉर्म्युला अपनाना होगा।’

यह भी पढ़ें: मंदिर में नमाज के बाद मस्जिद में चार हिन्दू युवकों ने पढ़ी हनुमान चालीसा, पुलिस ने भेजा जेल

इससे पहले महबूबा मुफ्ती ने कहा था, ‘ये लोग (बीजेपी) जम्मू-कश्मीर के संसाधन लूट के ले जाना चाहते हैं। बीजेपी ने गरीब को दो वक्त की रोटी नहीं दी, वो J&K में जमीन क्या खरीदेगा? दिल्ली से रोज एक फ़रमान जारी होता है, अगर आपके पास इतनी ताकत है तो चीन को निकालो जिसने लद्दाख की ज़मीन खाई है, चीन का नाम लेने से थरथराते हैं।’

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखने के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है