Covid-19 Update

38,435
मामले (हिमाचल)
29,686
मरीज ठीक हुए
604
मौत
9,351,224
मामले (भारत)
61,988,059
मामले (दुनिया)

NDA से अलग हुए चिराग केवल एक सीट जीत रहे; पर कई दलों में कर गए अंधेरा, पढ़ें रिपोर्ट

एलजेपी ने एनडीए को करीब 29 सीटों पर नुकसान पहुंचाया है

NDA से अलग हुए चिराग केवल एक सीट जीत रहे; पर कई दलों में कर गए अंधेरा, पढ़ें रिपोर्ट

- Advertisement -

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) की मतगणना जारी है। अबतक सामने आए रुझानों में एनडीए (NDA) सूबे में पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाती नजर आ रही है। इस बार के चुनावों में एनडीए में प्रमुख रूप से दो दल शामिल हुए थे, जिसमें एक बीजेपी और दूसरी पार्टी जेडीयू थी। चुनाव से पहले ही एनडीए के पूर्व सहयोगी रहे राम विलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी ने एनडीए से सूबे में अपना नाता तोड़ लिया था। राम विलास पासवान का निधन होने से पहले ही पार्टी की उनके बेटे चिराग पासवान के हाथों में चली गई थी। ऐसे में चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने जेडीयू (JDU) से बैर होने की बात कहकर इस गठबंधन से किनारा कर लिया था। हालांकि केंद्र में पार्टी ने एनडीए से अपनी साठगांठ को नहीं छेड़ा था।

यह भी पढ़ें: पूरे रिजल्ट आए भी नहीं कि उठने लगे EVM पर सवाल; कांग्रेस नेता ने सैटलाइट से कर दी तुलना

इसके बाद जब चुनाव प्रचार शुरू हुए तो चिराग को युवा चेहरा होने के कारण अच्छी ख़ासी तहरीज दी जा रही थी। वहीं, चिराग अपने चुनावी बयानों में बीजेपी को अपना मित्र बताकर वोट मांग रहे थे, तो सूबे के सीएम नितीश कुमार की पार्टी पर लगातार निशाना भी साध रहे थे। ऐसे में यह बात उठने लगी थी कि बीजेपी ने सूबे में जेडीयू को कमजोर करने के लिए चिराग को एनडीए से अलग कर नितीश कुमार के खिलाफ अंदर ही अंदर बड़ा खेल कर दिया है। वहीं अबतक सामने आए चुनाव के रुझानों में भी यह बात स्पष्ट तौर पर झलकती नजर आ रही है।

यहां पढ़ें चिराग ने कहां-कहां किया अंधेरा

अबतक सामने आए रुझानों के मुताबिक जहां एलजेपी (LJP) केवल एक सीट पर बढ़त बनाए हुए नजर आ रही है, लेकिन उसने अन्य दलों को अच्छा खासा नुकसान पहुंचाया है। जिसमें जेडीयू का एक बड़ा हिस्सा आता है। ताजा रुझानों की बात करें तो एलजेपी ने एनडीए को करीब 29 सीटों पर नुकसान पहुंचाया है। जिसमें से 26 सीटें जेडीयू के खाते की हैं। इसके अलावा एलजेपी के कारण बीजेपी को दो सीटों पर नुकसान झेलना पड़ा है। वहीं, एनडीए में शामिल ‘हम’ को भी एक सीट पर एलजेपी के कारण नुकसान हुआ है।

यह भी पढ़ें: उपचुनाव Result: MP में नहीं दिख रही कमलनाथ की वापसी; खिला रहेगा कमल!

अब अगर आप ऐसा सोच रहे हैं कि एलजेपी ने केवल एनडीए को ही नुकसान पहुंचाया है, तो यह बात भी गलत है। दरअसल एलजेपी के कारण महागठबंधन को भी अच्छा खासा नुकसान उठाना पड़ा है। ताजा रुझानों के अनुसार एलजेपी ने महागठबंधन को कुल 27 सीटों पर नुकसान पहुंचाया है। जिसमें से आरजेडी की 17 तो कांग्रेस की 6 सीटें शामिल हैं। इसके अलावा एलजेपी ने महागठबंधन में शामिल सीपीआई को 1, सीपीआई (एम) को 2 और सीपीआई (एमएल) (एल) को 1 सीट पर नुकसान पहुंचाया है। अब इस पूरे समीकरण को देखने के बाद मशहूर कवि कुमार विश्वास का एक ट्वीट याद आता है, जिसमें उन्होंने इसी समीकरण पर लिखा था- BJP और JDU मिलकर लड़ेंगे LJP और BJP मिलकर लड़ेंगे लेकिन LJP, JDU के ख़िलाफ़ लड़ेगी लेकिन LJP, BJP के साथ गठबंधन में लड़ेगी हालाँकि चुनाव में LJP, JDU के ख़िलाफ़ लड़ेगी पर केंद्र में JDU व BJP के साथ रहेगी LJP चुनाव बाद BJP और JDU या किसी के भी साथ सरकार बनाएगी। कुछ आया समझ…

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है