Covid-19 Update

39,406
मामले (हिमाचल)
30,470
मरीज ठीक हुए
632
मौत
9,393,039
मामले (भारत)
62,573,188
मामले (दुनिया)

वाह मोदी जी, वाह: Tik-Tok बंद कर युवाओं को दिया App बनाने का चैलेंज; जानें

वाह मोदी जी, वाह: Tik-Tok बंद कर युवाओं को दिया App बनाने का चैलेंज; जानें

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत-चीन सीमा पर जारी तनाव के बीच केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए टिक-टॉक समेत 59 चाइनीज ऐप्स को देश में बैन किया जा चुका है। जिसके बाद पीएम मोदी (PM Modi) ने देश के युवाओं को ऐसा चैलेंज दे दिया है, जिसे जानकार आप भी बोल उठेंगे- वाह मोदी जी, वाह। दरअसल पीएम मोदी ने शनिवार को इस बारे में ट्वीट कर बताया कि वह आत्मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेंज (Aatmanirbhar Bharat App Innovation Challenge) लॉन्च करने जा रहे हैं। पीएम मोदी ने अपने इस ट्वीट में लिखा कि आज मेड इन इंडिया ऐप्स बनाने के लिए तकनीकी और स्टार्टअप समुदाय के बीच अपार उत्साह है। इसलिए @GoI_MeitY और @AIMtoInnovate मिलकर इनोवेशन चैलेंज शुरू कर रहे हैं।

अब ऐप्स के मामले में भी आत्मनिर्भर बनेगा भारत

पीएम मोदी ने अपने इस ट्वीट में आगे बताया कि अगर आपके पास कोई ऐसा प्रोडक्ट है या फिर आपको लगता है कि कुछ अच्छा करने का दृष्टिकोण और क्षमता है तो टेक कम्युनिटी के साथ जुड़ जाइए। पीएम मोदी ने लिंक्डइन पर अपने विचार रखे हैं। गौरतलब है कि देश में 59 चाइनीज ऐप्स के बैन किए जाने के बाद इस मसले को लेकर चर्चा छिड़ी हुई है कि क्या इन ऐप्स की वापस हो सकेगी या नहीं। इस सब के बीच पीएम मोदी द्वारा इस तरह का ऐलान किया जाना यह दर्शाता है कि सरकार की इस मामले में भी भारत को ‘आत्मनिर्भर’ बनाने की योजना है। बता दें कि बीते सोमवार को आईटी एवं इलेक्ट्रॉनिक्स मंत्रालय ने भारत में प्रचलित चीन के 59 एप पर प्रतिबंध लगा दिया था। इनमें टिकटॉक, हेलो, वीचैट, यूसी न्यूज जैसे प्रमुख एप भी शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: लेह पहुंचे PM मोदी तो China को लगी मिर्ची; बोला- कोई पक्ष हालात बिगाड़ने वाले कदम ना उठाए

जानें किन वजह से बैन किए गए थे चीनी ऐप्स

चीन के ये 59 एप भारत की संप्रभुता, अखंडता व सुरक्षा को लेकर पूर्वाग्रह रखते थे। ऐसे में, सरकार ने आईटी एक्ट के 69ए सेक्शन के तहत इन 59 एप पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। सरकार को इन एप के गलत इस्तेमाल को लेकर कई शिकायतें भी मिल रही थी। सरकार को यह भी शिकायत मिल रही थी कि ये एप एंड्रायड एवं आईओएस प्लेटफार्म से डाटा चोरी करने में भी सहायक है जिससे देश की सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े होने लगे थे। सरकार के साइबर क्राइम पर नजर रखने वाले सेंटर एवं गृह मंत्रालय की तरफ से भी इन एप पर प्रतिबंध की सिफारिश की गई थी। भारत में टिकटॉक के लाखों फोलोअर्स हैं। सरकार के इस फैसले से भारत में निर्मित एप को आगे आने का मौका मिलेगा वहीं चीन को बड़ा झटका लगा है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है