Covid-19 Update

14457
मामले (हिमाचल)
10611
मरीज ठीक हुए
175
मौत
6,087,454
मामले (भारत)
33,391,221
मामले (दुनिया)

नई शिक्षा नीति पर बोले PM Modi – देश के विकास के लिए लाभदायक साबित होगी

नई शिक्षा नीति पर बोले PM Modi – देश के विकास के लिए लाभदायक साबित होगी

- Advertisement -

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज देश की नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लेकर देशवासियों को संबोधित किया। शिक्षा मंत्रालय द्वारा आयोजित किए गए कॉन्क्लेव में उच्च शिक्षा पर पीएम ने मंथन किया। इस कार्यक्रम का नाम ‘Conclave on Transformational Reforms in Higher Education under National Education Policy’ है। कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल भी मौजूद रहे। यहां उन्होंने छठी कक्षा तक मातृभाषा में सिलेबस पढ़ाने के फायदे बताए। उन्होंने कहा कि जब बच्चे अपनी बोली में अपनी पढ़ाई करेंगे तो उन्हें ये अच्छे से समझ आएगी। इसे लेकर उनकी रुचि बढ़ेगी और आगे चलकर उनका हायर एजुकेशन में इसका बेस मजबूत होगा। उन्होंने कहा कि जितनी ज्यादा जानकारी स्पष्ट होगी फिर उतना ही आसान इस राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लागू करना भी होगा। पीएम मोदी ने कहा कि 3-4 साल के व्यापक विचार-विमर्श के बाद, लाखों सुझावों पर लंबे मंथन के बाद राष्ट्रीय शिक्षा नीति को स्वीकृत किया गया है।


 

 

पीएम मोदी ने बताया, कैसे नई शिक्षा नीति देश के विकास के लिए लाभदायक साबित होगी। उन्होंने बताया कि भारत के लोगों को ताकतवर और सशक्त बनाने के लिए इस शिक्षा नीति में खास ध्यान दिया गया है।

पीएम मोदी ने कहा कि ये सच है कि 34 साल बाद शिक्षा नीति में बदलाव किया गया है। ऐसे में हर बारीकी और सवालों पर ध्यान दिया गया है। उन्होंने बताया कि शिक्षा नीति को नया आकार देने से पहले दो सवालों को पर गंभीर रूप से विचार किया था।

 

 

पहला सवाल था, क्या नई शिक्षा नीति (New education policy) भविष्य में क्र‍िएटिवि‍टी, क्यूरोसिटी और कमिटमेंट मेकिंग पर लोगों को बांध कर रख पाएगी? दूसरा सवाल था। क्या हमारी शिक्षा व्यवस्था सशक्तिकरण करती है? पीएम मोदी ने कहा, ”जब नर्सरी का बच्चा भी नई तकनीक के बारे में पढ़ेगा, तो उसे भविष्य की तैयारी करने में आसानी होगी। कई दशकों से शिक्षा नीति में बदलाव नहीं हुआ था, इसलिए समाज में भेड़चाल को प्रोत्साहन मिल रहा था। कभी डॉक्टर-इंजीनियर-वकील बनाने की होड़ लगी हुई थी। अब युवा क्रिएटिव विचारों को आगे बढ़ा सकेगा, अब सिर्फ पढ़ाई नहीं बल्कि वर्किंग कल्चर को डेवलेप किया गया है।”

 

 

कॉनक्लेव में पीएम मोदी ने कहा कि आज देश भर में न्यू एजुकेशन पॉलिसी की व्यापक चर्चा हो रही है। अलग-अलग क्षेत्र के लोग, अलग-अलग विचारधाराओं के लोग अपने विचार दे रहे हैं, राष्ट्रीय शिक्षा नीति की समीक्षा कर रहे हैं।

ये एक स्वस्थ परंपरा है, ये जितनी ज्यादा होगी, उतना ही लाभ देश की शिक्षा व्यवस्था को मिलेगा। ये भी खुशी की बात है कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति आने के बाद देश के किसी भी क्षेत्र से, किसी भी वर्ग से ये बात नहीं उठी कि इसमें किसी तरह का भेदभाव है, या किसी एक ओर झुकी हुई है।

 

 

पीएम मोदी ने कहा कि कुछ लोगों के मन में ये सवाल आना स्वभाविक है कि इतना बड़ा रीफॉर्म कागजों पर तो कर दिया गया, लेकिन इसे जमीन पर कैसे उतारा जाएगा। यानी अब सबकी निगाहें इसे लागू करने की तरफ है। जहां तक राजनीतिक इच्छाशक्त‍ि की बात है, मैं पूरी तरह कमिटेड हूं, मैं पूरी तरह से आपके साथ हूं।

अपनी मातृभाषा में पढ़ाई को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि इस बात में कोई विवाद नहीं है कि बच्चों के घर की बोली और स्कूल में पढ़ाई की भाषा एक ही होने से बच्चों के सीखने की गति बेहतर होती है। यह एक बहुत बड़ी वजह है, इसलिए जहां तक संभव हो 5th class तक बच्चों को उनकी मातृभाषा में ही पढ़ाने पर सहमति दी गई है।

 

 

यह भी पढ़ें – नई शिक्षा नीति: स्कूली बच्चों को अब Mid Day Meal के साथ नाश्ता कराने की तैयारी; जानें पूरा प्लान

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

#Corona Breaking: हिमाचल में आज चार पुलिस कर्मियों और 22 प्रशिक्षुओं सहित 266 पॉजिटिव

बड़ी खबरः कोरोना संकट के बीच Himachal के अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य बदले

मुकेश अग्निहोत्री बोले, BJP कृषि बिल की आड़ में किसानों को लूटने का कर रही काम

इस देश में हैं Chocolate Museum, अनोखी चीजें देखकर हो जाएंगे हैरान

Mumbai से Delhi जा रहा था इंडिगो का विमान, हवा में हुआ कुछ ऐसा, वापस लौटना पड़ा

#UPSC : असिस्टेंट इंजीनियर सहित 42 पदों पर निकाली Vacancy, जानिए कैसे करें आवेदन

हर रोज करेंगे एलोवेरा का सेवन तो हमेशा निरोगी रहेगा शरीर

#Corona Breaking: हिमाचल में आज राहत के साथ आफत- जानने के लिए पढ़ें खबर

#Corona काल में मुंह मीठा करवाकर पर्यटकों का स्वागत, शिमला में हुआ कुछ ऐसा

#DC की दो टूक- बिना अनुमति स्टेशन छोड़ा तो अधिकारी के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई

Vikramaditya बोले- डॉक्टरों व पैरामेडिकल स्टाफ के खाली पद भरे सरकार, अदला-बदली रोके

पीएम मोदी के Himachal दौरे को लेकर सुरक्षा एजेंसियां Alert, कल मनाली पहुंचेगी SPG

खुली मिठाई खरीदने से पहले देख लें निर्माण और उपयोग की Date, लागू हो रहा यह नियम

Fourlane निर्माण में लगे मजदूरों-वाहनों का नहीं कोई रिकार्ड, SP Mandi के पास पहुंचा मामला

पूर्व केंद्रीय मंत्री #Jaswant_Singh का निधन, राष्ट्रपति कोविंद-पीएम मोदी सहित कई नेताओं ने जताया शोक

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board

#HPBose: बोर्ड ने छात्र हित में लिया फैसला, 30 तक बढ़ाई यह तिथि

पहली से आठवीं कक्षाओं के छात्रों की ऑनलाइन परीक्षाओं की Datesheet जारी

#HPBose: डीईएलईडी पार्ट वन और टू का रिजल्ट आउट, कितने सफल, कितने असफल- जानिए

छात्र Online देख सकते हैं SOS की प्रेक्टिकल परीक्षा के अंक , feeding का भी विकल्प

D.El.Ed CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग में आधे अभ्यर्थी ही पात्र

#HPBose: SOS मैट्रिक व जमा दो कक्षाओं की प्रैक्टिकल परीक्षा की डेटशीट जारी

तकनीकी विवि में द्वितीय, चतुर्थ और छठे समेस्टर के छात्रों को किया जाएगा Promote

शिक्षकों-गैर शिक्षकों को स्कूल बुलाने के लिए Notification जारी, विभाग ने ये दिए निर्देश

#HPBose: बोर्ड की अनुपूरक परीक्षाओं से संबंधित जानकारी के लिए घुमाएं ये नंबर

D.El.Ed. CET -2020 की स्पोर्टस कोटे की काउंसिलिंग अब 17 को डाइट में होगी

#HPBose: बोर्ड ने D.El.Ed.CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग की तिथि की तय

#HPBose: हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने घोषित किया यह रिजल्ट- जानिए

Himachal के सरकारी स्कूलों में नौवीं से 12वीं के #OnlineExam आज से शुरू

#HPBose: D.El.Ed. CET स्पोर्ट्स कैटेगरी की काउंसलिंग स्थगित- जाने कारण

#HPBose_ Dharamshala: बोर्ड ने घोषित किया यह रिजल्ट, वेबसाइट में देखें



×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है