Covid-19 Update

35,812
मामले (हिमाचल)
28,045
मरीज ठीक हुए
572
मौत
9,221,998
मामले (भारत)
60,102,811
मामले (दुनिया)

#Punjab में मालगाड़ियां बंद करने के होंगे गंभीर नतीजे, हिमाचल, लद्दाख व J&K भी होंगे प्रभावित

पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बीजेपी चीफ नड्डा को भी इस संबंध में लिखा खत

#Punjab में मालगाड़ियां बंद करने के होंगे गंभीर नतीजे, हिमाचल, लद्दाख व J&K भी होंगे प्रभावित

- Advertisement -

चंडीगढ़। पंजाब (Punjab) में मालगाड़ियों के रद्द होने से गेहूं और सब्जियों की फसलों के लिए यूरिया की भारी कमी हो गई है, और राज्य सरकार के अधिकारियों का कहना है कि इस वजह से रबी फसल की बुवाई प्रभावित हो सकती है. जिसके बाद अब पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amrinder Singh) ने रेल मंत्रालय द्वारा राज्य में मालगाड़ियों का परिचालन बंद करने पर नाराजगी जताई है। अमरिंदर सिंह ने कहा है कि अगर राज्य से मालगाड़ियों की आवाजाही जल्द बहाल नहीं हुई तो खतरनाक नतीजे हो सकते हैं। इस संबंध में सीएम ने बीजेपी चीफ जेपी नड्डा के नाम एक खुला खत भी लिखा है।

यहां पढ़ें सीएम ने अपने इस खत में और क्या लिखा

सीएम अमरिंदर ने इस खत में दावा किया है कि जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) और लद्दाख जैसे इलाकों में सर्दियों की शुरुआत के साथ सशस्त्र बल बुरी तरह प्रभावित हो सकते हैं। कैप्टन ने लिखा है कि बर्फबारी के बाद रोड ब्लॉक होने पर उनके पास खाद्य-रसद और जरूरी चीजों की सप्लाई ठप हो सकती है। पंजाब सीएम ने अपने इस पत्र में आगे लिखा कि ये ऐसे खतरे हैं जिनको ना तो केंद्र सरकार और ना ही बीजेपी सहित कोई भी राजनीतिक दल नजरअंदाज कर सकता है। देशहित में हमें विवादित मुद्दों को हल करने के साझा उद्देश्य के मकसद से एक साथ खड़े रहने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें: पंचायत व विधानसभा चुनावों के लिए #HimachalCongress ने कसी कमर, तय की जिम्मेदारियां

बक़ौल सीएम अमरिंदर सिंह, ”हर दिन मालगाड़ियों के नहीं चलने का मतलब उद्योग, कृषि, कोयले और अर्थव्यवस्था को गंभीर नुकसान है। कोयला, यूरिया और डीएपी के स्टॉक में कमी को देखते हुए इस संकट पर ध्यान देने की जरूरत है।’ उन्होंने इस खत में लिखा कि अगर सशस्त्र बल महत्वपूर्ण सप्लाई से वंचित हैं तो चीन और पाकिस्तान दोनों से बढ़ते आक्रामक खतरों के बीच हालात देश के लिए बेहद खतरनाक हो सकते हैं। यदि किसानों के मौजूदा संकट का जल्द से जल्द समाधान नहीं हुआ तो पंजाब भी गंभीर सुरक्षा चिंता का विषय बन सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि पाकिस्तान के आईएसआई समर्थित समूह किसी भी उपद्रव या अशांति का फायदा उठाने की फिराक में हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है