Covid-19 Update

14457
मामले (हिमाचल)
10611
मरीज ठीक हुए
175
मौत
6,087,454
मामले (भारत)
33,391,221
मामले (दुनिया)

‘जंग’ की तैयारी में जुटे हैं Rafale: हिमाचल की बर्फीली वादियों में कर रहे रात्रि-अभ्यास

‘जंग’ की तैयारी में जुटे हैं Rafale: हिमाचल की बर्फीली वादियों में कर रहे रात्रि-अभ्यास

- Advertisement -

शिमला। अगर आपका ये सोचना है कि फ्रांस से लाए जाने के बाद 5 भारतीय राफेल (Rafale) लड़ाकू विमानों को एयरबेस पर सजा के रख दिया गया है, तो यह बिलकुल ही गलत है। दरअसल, ये पांचों विमान एलएसी से दूरी बनाकर हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की बर्फीली वादियों में रात के वक्‍त अभ्‍यास कर रहे हैं। एलएसी (LAC) से दूरी बनाने का कारण यह है कि अक्‍साई चिन में तैनात पीपुल्‍स लिबरेशन आर्मी (PLA) के रडार इनके फ्रीक्‍वेंसी सिग्‍नेचर्स की पहचान ना कर सकें। हिमाचल में अभ्यास करने कारण यह है कि यहां पर सीखा गया युद्ध कौशल पूर्वी लद्दाख में चीन और कश्‍मीर में पाकिस्‍तान से युद्ध के हालत बनने पर काम आएगा। दरअसल, हिमाचल में स्थित पहाड़ियों की चोटियों की टेरेन वहां से काफी हद तक मिलती-जुलती हैं।


यह भी पढ़ें: पाक की ओर से हो रही घुसपैठ को नाकाम करेंगी भारतीय महिला सैनिक, LOC पर दी तैनाती

बतौर रिपोर्ट्स, अगर लद्दाख सेक्‍टर में चीन से लगी सीमा पर हालात बिगड़ते हैं तो राफेल अपनी Meteor और SCALP मिसाइलों के साथ हमला करने को एकदम तैयार रहेंगे। बता दें कि ये राफेल भारतीय वायुसेना की गोल्‍डन एरोज स्‍क्‍वाड्रन को सौंपे गए हैं। भारत में जो राफेल आए हैं, उनके साथ Meteor बियांड विजुअल रेंज एयर-टू-एयर मिसाइल, MICA मल्‍टी मिशन एयर-टू-एयर मिसाइल और SCALP डीप-स्‍ट्राइक क्रूज मिसाइल्‍स लगी हैं। इससे भारतीय वायुसेना के जांबाजों को हवा और जमीन पर टारगेट्स को उड़ाने की जबर्दस्‍त क्षमता हासिल हो चुकी है। Meteor मिसाइलें नो-एस्‍केप जोन के साथ आती हैं यानी इनसे बचा नहीं जा सकता। यह फिलहाल मौजूद मीडियम रेंज की एयर-टू-एयर मिसाइलों से तीन गुना ज्‍यादा ताकतवर हैं। इस मिसाइल सिस्‍टम के साथ एक खास रॉकेट मोटर लगा है जो इसे 120 किलोमीटर की रेंज देता है।

राफेल की 10 प्रमुख ख़ूबियां; यहां जानें

  1. स्पीड के मामले में इस राफेल दुश्मन के छक्के छुड़ा सकता है। इसकी अधिकतम स्पीड 2222 किलोमीटर प्रति घंटे की है।
  2. राफेल परमाणु हथियार ले जाने मे सक्षम है, भारतीय वायुसेना के हिसाब से फाइटर जेट में कई बदलाव किए गए हैं।
  3. राफेल की मारक क्षमता की बात करें तो ये 3700 किलोमीटर तक दुश्मन के किले को भेद सकता है।
  4. 24,500 किलोग्राम तक का भार उठाकर ले जाने में राफेल सक्षम है, ये 60 घंटे अतिरिक्त उड़ान भरने की ताकत रखता है।
  5. ब्रह्मोस जैसी 6 सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल्स को ले जाने की राफेल ताकत रखता है।
  6. 3 लेडर गाइडेड बम समेत 6 हवा से जमीन पर मार करने वाली मिसाइल भी राफेल की क्षमता है।
  7. 17,000 KG फ्यूल राफेल ले जा सकता है, ये अत्याधुनिक हथियारों से लैस फाइटर जैट है।
  8. राफेल हवा से जमीन पर मार वाली स्कैल्प मिसाइल से लैस है जिसकी रेंज 150 किमी की बियोंड विजुअल है। जबकि स्कैल्प मिसाइल की रेंज 300 किलोमीटर है
  9. 1 मिनट के भीतर ही 60,000 फिट की ऊंचाई पर जाने में सक्षम राफेल 4.5 जेनरेशन के ट्विन इंजन वाला है।
  10. हवा में फ्यूल भरने के बाद लगातार दस घंटे तक राफेल उड़ान भरने की क्षमता रखता है। इसके साथ ही ये एयरबेस के साथ एयरकाफ्ट कैरियर से भी उड़ान भरने में सक्षम है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

#Corona Breaking: हिमाचल में आज चार पुलिस कर्मियों और 22 प्रशिक्षुओं सहित 266 पॉजिटिव

बड़ी खबरः कोरोना संकट के बीच Himachal के अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य बदले

मुकेश अग्निहोत्री बोले, BJP कृषि बिल की आड़ में किसानों को लूटने का कर रही काम

इस देश में हैं Chocolate Museum, अनोखी चीजें देखकर हो जाएंगे हैरान

Mumbai से Delhi जा रहा था इंडिगो का विमान, हवा में हुआ कुछ ऐसा, वापस लौटना पड़ा

#UPSC : असिस्टेंट इंजीनियर सहित 42 पदों पर निकाली Vacancy, जानिए कैसे करें आवेदन

हर रोज करेंगे एलोवेरा का सेवन तो हमेशा निरोगी रहेगा शरीर

#Corona Breaking: हिमाचल में आज राहत के साथ आफत- जानने के लिए पढ़ें खबर

#Corona काल में मुंह मीठा करवाकर पर्यटकों का स्वागत, शिमला में हुआ कुछ ऐसा

#DC की दो टूक- बिना अनुमति स्टेशन छोड़ा तो अधिकारी के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई

Vikramaditya बोले- डॉक्टरों व पैरामेडिकल स्टाफ के खाली पद भरे सरकार, अदला-बदली रोके

पीएम मोदी के Himachal दौरे को लेकर सुरक्षा एजेंसियां Alert, कल मनाली पहुंचेगी SPG

खुली मिठाई खरीदने से पहले देख लें निर्माण और उपयोग की Date, लागू हो रहा यह नियम

Fourlane निर्माण में लगे मजदूरों-वाहनों का नहीं कोई रिकार्ड, SP Mandi के पास पहुंचा मामला

पूर्व केंद्रीय मंत्री #Jaswant_Singh का निधन, राष्ट्रपति कोविंद-पीएम मोदी सहित कई नेताओं ने जताया शोक

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board

#HPBose: बोर्ड ने छात्र हित में लिया फैसला, 30 तक बढ़ाई यह तिथि

पहली से आठवीं कक्षाओं के छात्रों की ऑनलाइन परीक्षाओं की Datesheet जारी

#HPBose: डीईएलईडी पार्ट वन और टू का रिजल्ट आउट, कितने सफल, कितने असफल- जानिए

छात्र Online देख सकते हैं SOS की प्रेक्टिकल परीक्षा के अंक , feeding का भी विकल्प

D.El.Ed CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग में आधे अभ्यर्थी ही पात्र

#HPBose: SOS मैट्रिक व जमा दो कक्षाओं की प्रैक्टिकल परीक्षा की डेटशीट जारी

तकनीकी विवि में द्वितीय, चतुर्थ और छठे समेस्टर के छात्रों को किया जाएगा Promote

शिक्षकों-गैर शिक्षकों को स्कूल बुलाने के लिए Notification जारी, विभाग ने ये दिए निर्देश

#HPBose: बोर्ड की अनुपूरक परीक्षाओं से संबंधित जानकारी के लिए घुमाएं ये नंबर

D.El.Ed. CET -2020 की स्पोर्टस कोटे की काउंसिलिंग अब 17 को डाइट में होगी

#HPBose: बोर्ड ने D.El.Ed.CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग की तिथि की तय

#HPBose: हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने घोषित किया यह रिजल्ट- जानिए

Himachal के सरकारी स्कूलों में नौवीं से 12वीं के #OnlineExam आज से शुरू

#HPBose: D.El.Ed. CET स्पोर्ट्स कैटेगरी की काउंसलिंग स्थगित- जाने कारण

#HPBose_ Dharamshala: बोर्ड ने घोषित किया यह रिजल्ट, वेबसाइट में देखें



×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है