Covid-19 Update

41,860
मामले (हिमाचल)
33,336
मरीज ठीक हुए
667
मौत
9,525,668
मामले (भारत)
64,510,773
मामले (दुनिया)

अमेजन का सचः  वॉशरूम तक नहीं जा सकते कर्मी,  बॉटल इस्तेमाल करने को मजबूर 

अमेजन का सचः  वॉशरूम तक नहीं जा सकते कर्मी,  बॉटल इस्तेमाल करने को मजबूर 

- Advertisement -

नई दिल्ली। अमेजन (Amazon) अपनी बेहतर सर्विस के कारण भले ही दुनिया भर में छाई हो लेकिन इसके कर्मचारियों (Employees)पर अत्याचार हो रहा है। अमेजन में काम कर रहे इन कर्मचारियों का कहना है कि उन्हें शिफ्ट के दौरान वॉशरूम तक जाने नहीं दिया जाता है। इतना ही नहीं उन्हें जबरन बॉटल इस्तेमाल करने के लिए कहा जाता है। अपनी मांगों को लेकर अब लोग सड़कों पर उतर आए हैं।

यह भी पढ़ें- मुंबई: चर्चिल चैम्बर बल्डिंग में लगी आग, कई लोगों के फंसे होने की आशंका

अमेजन कर्मचारियों की स्थिति सुधारने के लिए अब पूरे ब्रिटेन में प्रदर्शन शुरू कर दिया जा चुका है। मांगों को लेकर गोदामों के बाहर प्रदर्शन किया जा रहा है। इन कर्मचारियों का कहना है कि कंपनी स्थिति सुधारने के साथ ही देश में मौजूद टैक्स का सही तरीके से भुगतान करे। उनका कहना है कि उनसे एक रोबोट की तरह काम लिया जाता है। अमेजन के गोदाम में काम करने वाले कर्मचारियों को टॉयलेट जाने की इजाजत नहीं दी जाती और उन्हें बोतल में ही पेशाब करने को मजबूर किया जाता है। इसके अलावा गर्भवती महिलाओं को भी घंटों खड़े रखा जाता है कोई काम से इंकार करे तो उन्हें नौकरी से ही हाथ धोने पड़ जाते हैं। कर्मचारियों का कहना है जब तक कि स्थिति में सुधार नहीं किया जाता प्रदर्शन जारी रहेगा।

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है