Covid-19 Update

38,435
मामले (हिमाचल)
29,686
मरीज ठीक हुए
604
मौत
9,351,224
मामले (भारत)
61,988,059
मामले (दुनिया)

निर्णायक मोड़ पर पहुंचा #US_Election: जहां आगे थे Trump वहां भी पिछड़े; हार तय

शुक्रवार शाम तक जो बाइडेन ने जॉर्जिया में भी बढ़त बना ली है

निर्णायक मोड़ पर पहुंचा #US_Election: जहां आगे थे Trump वहां भी पिछड़े; हार तय

- Advertisement -

वॉशिंगटन डीसी। अमेरिका का राष्ट्रपति चुनाव (US President Election) अब निर्णायक मोड़ पर आ पहुंचा है। दरअसल, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) जिन राज्यों में आगे चल रहे थे वहां भी राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन (Joe Biden) ने बढ़त बना ली है। हालांकि अभी अभी करीब आधा दर्जन राज्यों में काउंटिंग जारी है, जहां लगातार स्थिति बदलती हुई दिख रही है। बतौर रिपोर्ट्स, शुक्रवार शाम तक जो बाइडेन ने जॉर्जिया में भी बढ़त बना ली है। चुनावी अभियान में डेमोक्रेट ने जॉर्जिया पर ज्यादा फोकस नहीं किया था। जो बाइडेन ने तो चुनाव से एक हफ्ते पहले तक राज्य का दौरा नहीं किया था। लेकिन अब वो यहां पर आगे चल रहे हैं। ऐसे में जॉर्जिया डोनाल्ड ट्रंप को राष्ट्रपति पद के लिए आवश्यक 270 चुनावी वोटों तक पहुंचने से रोक सकता हैं।

यह भी पढ़ें: राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय और अमेरिकी राजदूत में #Himachal के इन मुद्दों पर हुई चर्चा

जो बाइडेन करीब 1 हजार वोटों से आगे हैं और यहां पर 99 फीसदी वोट गिने जा चुके हैं। अगर जो बाइडेन यहां जीतते हैं तो उन्हें 16 इलेक्टोरल वोट मिल जाएंगे। 1992 के बाद से यह पहली बार है जब रिपब्लिकन पार्टी के गढ़ में राष्ट्रपति चुनाव के लिए डेमोक्रेटिक उम्मीदवार को इस तरह का समर्थन मिला है। बाइडेन को अब जॉर्जिया, पेन्सिलवेनिया, नेवादा या नॉर्थ केरोलिना में से अब ही एक ही राज्य जीतने की आवश्यकता है और वह दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश के राष्ट्रपति बनने के लिए जरूरी बहुमत हासिल हो जाएगा।

अगर ट्रंप हारे तो टूट जाएगा 28 साल पुराना रिकॉर्ड

अगर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप यह चुनाव हार जाते हैं तो वह 28 साल के बाद के पहले राष्ट्रपति होंगे जो दूसरे कार्यकाल के लिए व्हाइट हाउस नहीं पहुंच पाएंगे। इससे पहले साल 1992 में जॉर्ज एच डब्ल्यू बुश दूसरे कार्यकाल के लिए जीत हासिल नहीं कर पाए थे। इसके बाद जॉर्ज एच डब्ल्यू बुश के बाद बिल क्लिंटन, जॉर्ज डब्ल्यू बुश और फिर बराक ओबामा अमेरिका के राष्ट्रपति बने और तीनों अपने दो-दो कार्यकाल पूरे किए। पिछले करीब सौ वर्षों में अमेरिका के अधिकांश राष्ट्रपतियों ने अपने दूसरे कार्यकाल के लिए जीत हासिल की लेकिन चार राष्ट्रपति ऐसे हुए जो सिर्फ एक कार्यकाल के लिए चुने गए।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखने के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है