Covid-19 Update

40,518
मामले (हिमाचल)
31,548
मरीज ठीक हुए
636
मौत
9,463,254
मामले (भारत)
63,589,301
मामले (दुनिया)

महिलाओं की स्किन के लिए क्या है बेहतर थ्रेडिंग या वैक्सिंग, जानें यहां

महिलाओं की स्किन के लिए क्या है बेहतर थ्रेडिंग या वैक्सिंग, जानें यहां

- Advertisement -

नई दिल्लीलिप्स हेयर रिमूव करने के लिए थ्रेडिंग (Threading) या वैक्सिंग (Waxing) का सहारा लिया जाता है। लेकिन स्किन के लिए कौन का बेहतर है आए जानें। अपर लिप्स के बाल लड़कियों के लिए परेशानी का कारण होते हैं। लुक्स को प्रभावित करने वाले इन बालों को हटाने के लिए आमतौर पर वैक्सिंग या थ्रैडिंग का सहारा लिया जाता हैं। लेकिन यह दोनों ही काफी दर्दनाक होते हैं। थ्रेडिंग में धागे की मदद से बालों को स्किन (Skin) से हटाया किया जाता हैं। थ्रेड़िग के दौरान अपर लिप्स के छोटे छोटे हिस्से को कवर करते हुए बाल (Hair) हटाए जाते हैं। इस दौरान स्किन को टाइट रखना होता है। ऐसा न करने पर स्किन भी निकल सकती हैं।


यह भी पढ़ें- ये 7 चीजें कर सकती हैं मानसून का मजा किरकिरा, इस तरह करें बचाव

फायदे और नुकसानों को देखा जाए तो थ्रेडिंग भले ही वैक्सिंग के मुकाबले स्लो प्रोसेस हो लेकिन इससे स्किन को कम नुकसान पहुंचता हैं, साथ ही इसका खर्च भी कम हैं। यहर वजह है कि अपर लिप्स हेयर रिमूवल के लिए थ्रेड़िग बेहतर हैं।

आईए जानते हैं,थ्रेडिंग के फायदे और नुकसान

-थ्रेडिंग से स्किन की ऊपरी लेयर को नुकसान नहीं पहुचता।
-इससे इनग्रोन की समस्या भी नहीं होती हैं।
-ऊपरीकी प्रोसेस दर्दभरी हो सकती है।
-स्किन को टाइट न रखने पर कट भी लग सकता है,जिससे ठीक होने में समय लगता है।


वैक्सिंग के फायदे और नुकसान

– वैक्स अगर ज्यादा गर्म हो तो स्किन बर्न हो सकता है।
– वैक्सिंग से स्किन की ऊपरी लेयर भी स्ट्रिप (Strip) के साथ निकलती है जिससे त्वचा डैमेज होती है।
-अपर लिप्स (Upper lipes) की स्किन बहुत ज्यादा सेंसिटिव (Sensitive) होती है,यह वजह है कि वैक्सिंग के करण त्वचा काली हो सकती है।
-बार बार वैक्सिंग से होंठ के पासकी त्वचा ढीली होने लगती है, जिससे झुर्रिया होने के चांस बढ़ जाते हैं।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है