Covid-19 Update

34,781
मामले (हिमाचल)
27,518
मरीज ठीक हुए
550
मौत
9,170,900
मामले (भारत)
59,245,882
मामले (दुनिया)

#Corona_Crisis : अच्छे दिनों की उम्मीद में काम पर लौट रहे कामगार, किराया भेजकर बुला रहे दुकानदार

फेस्टिव सीजन के शुरू होते बढ़ी कामगारों की मांग

#Corona_Crisis : अच्छे दिनों की उम्मीद में काम पर लौट रहे कामगार, किराया भेजकर बुला रहे दुकानदार

- Advertisement -

नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच फेस्टिव सीजन के शुरू होते ही बाजारों में आर्थिक गतिविधि रफ्तार पकड़ने लगी है। नवरात्र में करीब सात महीने सुनसान रहे बाजारों में ग्राहकों की चहल-पहल नजर आने लगी है। कोरोना महामारी (Corona epidemic) के कारण बेरोजगार होकर अपने घरों में बैठे कामगार (Workers) भी अच्छे दिनों की उम्मीद में अपने गांव से फिर दिल्ली-एनसीआर, पंजाब, हरियाणा, हिमाचल सहित अन्य राज्यों का रुख करने लगे हैं। त्योहारों के सीजन में लोग घर को जाते हैं लेकिन ऐसा पहली बार है कि लोग घर से दिल्ली सहित अन्य राज्यों में लौट रहे हैं क्योंकि इस बार उनके पास रोजगार नहीं है। कामगारों को काम देने वाले दुकानदार भी उनकी वापसी पर खुशी जता रहे हैं। कुछ दुकानदार तो उन्हें ट्रेन व बसों का किराया भेजकर वापस बुला रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Una: रात के अंधेरे में हिमाचल से बाहरी राज्यों में #Transfer कर दिए कामगार, भड़के

 

कोरोना संक्रमण के डर से अब तक पूर्वांचल से आने वाली बसों व ट्रेनों में यात्रियों की संख्या बेहद कम थी, लेकिन बाजारों में भीड़ बढ़ने के साथ ही कामगार दोबारा लौटने लगे हैं। पूर्वांचल से दिल्ली की ओर आने के लिए बड़ी संख्या में ट्रेनें चलाई गई हैं, जिनसे कामगार वापस पहुंच रहे हैं। आनंद विहार बस अड्डे पर भी पूर्वांचल के यात्रियों की संख्या काफी बढ़ गई है। हालांकि, गांवों में काफी समय से खाली बैठे कुछ कामगार दोबारा थोड़ी बहुत कमाई के बाद छठ महापर्व पर अपने घर लौट जाएंगे। लॉकडाउन के कारण बड़ी संख्या में लोग परिवार समेत दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) से अपने गांवों को चले गए थे। उनके पास जो थोड़ी बहुत जमापूंजी थी वह गांव जाने पर खत्म हो गई। वहां अधिकतर लोगों को मनरेगा योजना के अलावा कोई दूसरा काम नहीं मिल रहा था। इसलिए दिल्ली-एनसीआर में वापसी करना उनकी मजबूरी बन गया था।

 

 

शादियां का सीजन (Wedding season) शुरू हो गया है और दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली और छठ पूजा में लोगों की डिमांड और बढ़ जाएगी। इसे देखते हुए लाजपत नगर, सरोजनी नगर, गांधी बाजार, चांदनी चौक समेत अन्य बाजारों में पहले की तरह रौनक लौटने की उम्मीद जताई जा रही है। त्योहारों के बाद शादियों की तैयारी के लिए खरीदारी करने लोग घरों से बाहर निकलने शुरू हो जाएंगे। बाजारों में बढ़ रही भीड़ को देखते हुए प्रशासन के लिए भी कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकना काफी चुनौतीपूर्ण है इसलिए अधिकारी सभी बाजारों के पदाधिकारियों के साथ लगातार बैठक कर रहे हैं। इनमें दुकानदारों से सख्ती से सामाजिक दूरी का पालन कराने और मास्क के बगैर किसी को सामान न बेचने की अपील की गई है।

 

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखने के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है