×

क्या हो Teachers की भूमिका, साधुपुल में हुआ मंथन

क्या हो Teachers की भूमिका, साधुपुल में हुआ मंथन

- Advertisement -

National Seminar: राष्ट्रीय संगोष्ठी में 120 प्रतिभागियों ने लिया भाग

National Seminar: सोलन। हिमाचल प्रदेश में इंटरनेशनल प्रोफेशनल डेवेलपमेंट एसोसिएशन व प्रदेश इकाई के सहयोग से प्रथम राष्ट्रीय संगोष्ठी कार्यक्रम का आयोजन सोलन के साधुपुल स्थित विवेकानन्द विद्या निकेतन विद्यालय में किया गया। एक दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी में देशभर के करीब 120 प्रतिभागियों ने भाग लिया। कार्यशाला का शुभारंभ आईपीडीए के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ बलवंत सिंह और स्वामी सेवानन्द द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया गया।


समापन समारोह में प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ शशि धीमान बतौर मुख्यातिथि शरीक हुए। कार्यक्रम की अध्यक्षता विवेकानंद विद्या निकेतन विद्यालय समिति के अध्यक्ष रवि मेहता व आईपीडीए के प्रदेश उपाध्यक्ष चमन लाल वंगा ने की।

संगोष्ठी में हरियाणा से प्रोफेसर राकेश संधू, पंजाब से प्रोफेसर डॉ. मनजीत सिंह और डॉ. मनप्रीत कौर द्वारा तकनीकी सत्र की अध्यक्षता करते हुए शोधकताओं द्वारा शोधपत्र भी पढ़े, जिसमें विद्यालय समाज का लघु रूप है, अध्यापकों की भूमिका, विद्यालय में प्रबंधन समितियों की भूमिका और अध्यापन का ग्रामीण परिवेश में कार्य करना आदि विषयों पर विस्तारपूर्वक चर्चा भी की गई। आईपीडी संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ बलवंत सिंह ने बताया कि भविष्य में प्रदेश के अन्य विद्यालयों में भी संगोष्ठी कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। 

विवेकानंद विद्या निकेतन विद्यालय के अध्यक्ष रवि मेहता ने कहा कि कार्यशाला में विभिन्न वक्ताओं द्वारा प्रस्तुत शोधपत्रों के माध्यम से दी गई जानकारियों से सभी विद्यालयों के छात्र- छात्राओं सहित प्रतिभागियों को भी लाभ मिलेगा। 

Upgrade होंगे प्रदेश के सभी Sewerage Treatment Plant

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है