Covid-19 Update

2,17,403
मामले (हिमाचल)
2,12,033
मरीज ठीक हुए
3,639
मौत
33,529,986
मामले (भारत)
230,045,673
मामले (दुनिया)

#NationalSportsDay : पहली बार Online दिए गए राष्ट्रीय खेल पुरस्कार

#NationalSportsDay : पहली बार Online दिए गए राष्ट्रीय खेल पुरस्कार

- Advertisement -

नई दिल्ली। राष्ट्रीय खेल दिवस (#NationalSportsDay) के मौके पर आज हर बार की तरह देश के होनहार खिलाड़ियों को खेल पुरस्कार से सम्मानित किया जा रहा है। इस दिन हर साल राष्ट्रपति भवन में महामहिम खिलाड़ियों को सम्मानित करते हैं, लेकिन कोरोना के चलते पहली बार यह सम्मान समारोह ऑनलाइन (Online) आयोजित हुआ। इस साल अलग-अलग कैटेगरी में कुल 74 लोगों को ये पुरस्कार दिए जा रहे हैं जिसमें से 64 कार्यक्रम में मौजूद हैं। जो लोग व्यक्तिगत तौर पर पुरस्कार समारोह में शामिल नहीं हो पा रहे हैं वो या तो कोराना संक्रमित हैं या आइसोलेशन में हैं। कुछ खिलाड़ी देश के बाहर होने की वजह से भी राष्ट्रीय खेल पुरस्कार समारोह का हिस्सा नहीं बन पाए।

 

 

इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) ने खिलाड़ियों की हौसला अफजाई करते हुए कहा, ‘सभी पुरस्कार विजेताओं को मेरी हार्दिक बधाई! मेजर ध्यानचंद, खिलाड़ियों के साथ-साथ अन्य सभी देशवासियों के लिए भी एक आदर्श हैं। साधारण परिवेश तथा सुविधाओं के बीच उन्होंने अपनी निष्ठा व कौशल से हॉकी के मैदान में असाधारण उपलब्धियां हासिल कीं।’ आप सभी खिलाड़ियों के पुरस्कार पाने के विषय में और आपकी सफलता के बारे में बहुत से लोग जान जाते हैं। लेकिन, बहुत कम लोग उस परिश्रम, संघर्ष तथा आशा-निराशा के अच्छे-बुरे अनुभवों को समझ पाते हैं जिनसे गुजरते हुए आप सबने, आपके प्रशिक्षकों, परिवार-जनों और शुभचिंतकों ने अपनी मंजिल पाई है

 

 

खेल पुरस्कारों (Sports Awards) के इतिहास में इस बार पहली बार सर्वाधिक पांच एथलीट्स को सर्वोच्च खेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया। क्रिकेट बिरादरी से रोहित शर्मा, टेबल टेनिस विधा से पहली बार मनिका बत्रा, पहलवानी से विनेश फोगाट, हॉकी से कप्तान रानी रामपाल और पैरा एथलीट मरियप्पन साल 2020 के खेल रत्न बने हैं। खेल रत्न के लिए चुनीं गईं पहली महिला हॉकी खिलाड़ी बनीं, टीम की कप्तान रानी रामपाल पीपीई किट पहनकर स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया, बेंगलुरु सेंटर में अवॉर्ड लेने पहुंचीं।

 

 

अंतरराष्ट्रीय महिला पहलवान विनेश फोगाट इस बार खेल रत्न बनीं हैं, लेकिन अवॉर्ड सेरेमनी से ठीक एक दिन पहले वह कोरोना संक्रमित पाईं गईं। फिलहाल विनेश फोगाट अपने ससुराल सोनीपत में हैं, उनके कोच ओम प्रकाश दहिया भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। विनेश के साथ-साथ उन्हें भी ओम प्रकाश दहिया अवॉर्ड मिलना था। देश को विनेश फोगाट जैसी पहलवान देने के लिए ओमप्रकाश द्रोणाचार्य अवॉर्ड से नवाजे गए।

 

 

इस बार खेल पुरस्कारों की इनामी राशि में की गई भारी बढ़ोतरी

इस बार खेल पुरस्कारों की इनामी राशि (Reward amount) में भी भारी बढ़ोतरी की गई। सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न की पुरस्कार राशि में 70 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई। यानि कि जिस सर्वोच्च खेल सम्मान के लिए अब तक साढ़े सात लाख रुपये मिलते थे। इस बार 25 लाख रुपये दिए गए। प्रतिष्ठित अर्जुन अवॉर्ड की इनामी राशि को भी तीन गुना किया गया। अब तक इस अवार्ड के लिए खिलाड़ियों को पांच लाख रुपये दिए जाते थे, लेकिन इस राशि को 15 लाख रुपये कर दिया गया। खेल दिवस के मौके पर मंत्री किरेन रिजिजू ने इसकी घोषणा की। यही नहीं ध्यानचंद अवॉर्ड और लाइफ टाइम द्रोणाचार्य अवॉर्ड की इनामी राशि में भी इजाफा किया गया। इन दोनों अवॉर्डों के लिए अब पांच लाख रुपये दिए जाते रहे, लेकिन अब इसके लिए 15 लाख रुपये इनामी राशि की गई।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है