Covid-19 Update

1,98,901
मामले (हिमाचल)
1,91,709
मरीज ठीक हुए
3,391
मौत
29,570,881
मामले (भारत)
177,058,825
मामले (दुनिया)
×

इस बार काजा में होगा National Under-20 Ice Hockey Tournament,कोचिंग कैंप शुरु

कैंप में 165 छात्र- छात्राओं को दिया जा रहा प्रशिक्षण

इस बार काजा में होगा National Under-20 Ice Hockey Tournament,कोचिंग कैंप शुरु

- Advertisement -

काजा। हिमाचल प्रदेश के सबसे ऊंचे आईस हॉकी रिंक( Ice Hockey Rink) में आईस हॉकी ( Ice Hockey)का दूसरी बार प्रशिक्षण शिविर शुरू हो गया है। लाहुल- स्पीति के काजा उपमंडल में गुरुवार को आईस हॉकी कोचिंग कैंप एंव टूर्नामेंट का शुभारंभ किया गया। इस शिविर में बतौर मुख्यातिथि भारतीय आईस हॉकी संघ के महासचिव हरजिन्द्र सिंह जींदी( General Secretary of Indian Ice Hockey Association Harjinder Singh Jindi) ने शिरकत की। आईस स्केटिंग हॉकी कोचिंग कैंप भारतीय आईस हॉकी संघ के साथ आयोजित किया जा रहा है। इस कैंप में 165 छात्र- छात्राओं को राष्ट्रीय स्तर के कोच अमित बेरबाल द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा हैं। भारतीय आईस हॉकी संघ के महासचिव हरजिन्द्र सिंह जींदी ने कहा कि इस बार नेशनल अंडर 20 आईस हॉकी टूर्नामेंट काजा में आयोजित किया जाएगा। लाहुल स्पीति में विंटर स्पोर्टस( Winter sports) की अपार संभावनाएं है। हम यहां पर आने वाले समय में आईस हॉकी, स्कीइंग आदि विंटर स्पोर्टस को नई राह मिलेगीं। यहां पर जिन बच्चों को आइस हॉकी की कोचिंग दी जाएगी। इन्हीं में से कुछ बच्चों को गुलमार्ग में होने में एडवांस कोचिंग कैंप में प्रशिक्षित किया जाएगा। इनका अभी चयन आगे आने वाले दिनों में होगा। उन्होंने कहा कि । ताकि यहां के बच्चों को और सीखने को मिले। साथ ही साथ काजा भी विंटर स्पोर्टस का नया केंद्र बनकर देश भर में उभरे। आठ साल की आयु से लेकर 20 वर्ष की आयु के बच्चें यहां पर कोचिंग ले रहे।

यह भी पढ़ें: Ind_VS_Aus: सिडनी टेस्ट से पहले हालत नहीं सुधरे तो क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया उठाएगा ये कदम
इंटरनेशनल मानको के अनुसार बना है रिंक

इंटरनेशनल स्तर के मानकों के अनुसार स्थानीय प्रशासन ने कोविड के चलते 31 और 61 मीटर का आईस हॉकी स्केटिंग कम समय में तैयार किया गया है। हिमाचल का सबसे अधिक उंचाई पर स्थित आईस हॉकी रिंक बन गया है। एडीएम ज्ञान सागर नेगी ने कहा कि एक जनवरी से गुलमर्ग में एंडवास कोचिंग कैंप होने जा रहा है। इसमें काजा में प्रशिक्षित होने के वाले बेहतरीन प्रतिभागियों को कोचिंग के लिए भेजा जाएगा। उसके बाद उनमें से नेशनल टीम में उनका चयन होगा। पहली बार राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता हिमाचल में होने जा रही है। स्पीति में इस तरह की प्रतियोगिताओं से आर्थिकी,पयर्टन, और खिलाड़ियों को फायदा मिलता है। पिछले साल पहली बार कोचिंग कैंप शुरू किया था, जिसके परिणाम काफी अच्छे रहे। इसी वजह से दूसरी बार आयोजित किया जा रहा है। इस कैंप से राष्ट्रीय अंतराष्ट्रीय स्तर पर हमारे यहां के बच्चें प्रतिनिधित्व कर सके। इस कैंप बच्चों को बेसिक और एंडवास कोचिंग दी जाएगी। इस दौरान जो भी खर्च आएगा उसका प्रावधान किया गया है।


 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है