Covid-19 Update

3874
मामले (हिमाचल)
2555
मरीज ठीक हुए
17
मौत
2,506,247
मामले (भारत)
21,179,055
मामले (दुनिया)

राहुल गांधी अगर अमेठी से हारे तो गांधी परिवार के होंगे पहले नेता

वर्ष 1980 में पहली मर्तबा गांधी परिवार से संजय ने यहां करवाई थी जीत दर्ज

राहुल गांधी अगर अमेठी से हारे तो गांधी परिवार के होंगे पहले नेता

×

- Advertisement -

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव नतीजों के अंतिम रूझान आ रहे हैं, जिसमें साफ दिख रहा है कि बीजेपी (BJP) प्रचंड बहुमत के साथ विजयी हो रही है। इस सबके बीच बड़ी खबर ये है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) अपनी ही सीट अमेठी में फंसे हुए हैं। ये वो सीट है जिस पर गांधी परिवार का कोई भी सदस्य हारा नहीं है। लेकिन इस मर्तबा यहांबडे उल्टफेर से इंकार नहीं किया जा सकता, उनका मुकाबला यहां पर दूसरी मर्तबा बीजेपी की स्मृति ईरानी से है।


यह भी पढ़ें :-मध्य प्रदेश में बिगड़ा कांग्रेस का खेल, साध्वी के सामने दिग्गी राजा फेल

याद रहे कि अमेठी लोकसभा सीट के साथ कांग्रेस (Congress) का गहरा रिश्ता रहा है और यह सिलसिला 1967 से शुरू हुआ था जब कांग्रेस के विद्याधर वाजपेयी ने अमेठी में पार्टी की जीत की नींव रखी थी। वर्ष 1967-71 और 1971-77 तक विध्याधर वाजपेयी अमेठी (Amethi) के सांसद बने रहे। वर्ष 1977-80 तक जनता पार्टी के रविंद्र प्रताप सिंह अमेठी के सांसद रहे, उसके बाद अमेठी की बागडोर गांधी परिवार के हाथ आई जब 1980 में संजय गांधी यहां से सांसद चुने गए लेकिन संजय गांधी की विमान दुर्घटना में मौत के बाद यह सीट गांधी परिवार के ही राजीव गांधी को दी गई। राजीव गांधी 1981 से लेकर 1991 तक अमेठी सीट के सांसद बनते रहे।

राजीव गांधी के निधन के बाद यह सीट कांग्रेस के सतीश शर्मा को दी गई, सतीश शर्मा ने अमेठी सीट की बागडोर 1991 से लेकर 1998 तक संभाली और 1998 में बीजेपी के संजय सिन्हा ने सतीश शर्मा को अमेठी लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) में पटकनी दी। इसके बाद वर्ष1999 में सोनिया गांधी ने संजय सिन्हा को चुनाव में हराया और 1999-2004 तक अमेठी की सांसद बनी रही। इसके बाद 2004 से अब तक राहुल गांधी अमेठी से जीत दर्ज करवाते रहे। यानी अब तक कांग्रेस का कोई भी नेता अमेठी सीट से हारा नहीं हैए और अब अगर राहुल गांधी हारते हैं तो ये गांधी परिवार के पहले सदस्य होंगे जो अमेठी से लोकसभा चुनाव हारेंगे।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News















loading...


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है