Covid-19 Update

34,781
मामले (हिमाचल)
27,518
मरीज ठीक हुए
550
मौत
9,170,900
मामले (भारत)
59,245,882
मामले (दुनिया)

सियासी हलचल के बीच गहलोत सरकार का बड़ा दांव: CBI की राजस्थान में डायरेक्ट एंट्री पर लगाया Ban

सियासी हलचल के बीच गहलोत सरकार का बड़ा दांव: CBI की राजस्थान में डायरेक्ट एंट्री पर लगाया Ban

- Advertisement -

जयपुर। राजस्थान (Rajasthan) में जारी सियासी उठापटक के दौरा के बीच सूबे की गहलोत सरकार (Gehlot Government) ने एक बड़ा दांव खेला है। राज्य सरकार ने एक आदेश जारी किया है कि सीबीआई को किसी जांच के लिए पहले उसकी इजाजत लेनी होगी। उसके बाद ही सीबीआई (CBI) कोई एक्शन ले पाएगी। राज्य सरकार की सीनियर डिप्टी सेक्रेटरी रवि शर्मा ने यह आदेश जारी किया है। सारकार द्वारा जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि राज्य सरकार परिस्थिति के अनुसार किसी केस पर सहमति देगी। सरकार ने पहले की सभी सामान्य सहमति रद्द कर दी है। हालांकि विशिष्ट व्यक्तिगत मामलों में सहमति रहेगी।

मुझे पहले ही पता लग गया था कि मेरे करीबियों के यहां छापे पड़ेंगे

इस आदेश में आगे कहा गया है कि अगर सीबीआई के पास 1990 से पहले का कोई केस यदि हो, तो उसे राज्य सरकार से इस मामले में सहमति लेनी होगी। राजस्थान की गहलोत सरकार ने सीबीाई पर यह फैसला ऐसे समय लिया है, जब राज्य में सरकार को लेकर सियासी खींचतान जारी है। सीएम अशोक गहलोत केंद्र सरकार पर आरोप लगा चुके हैं कि दबाव बनाने के लिए केंद्रीय जांच एजेंसियों का दुरुपयोग किया जा रहा है। राजस्थान के सीएम ने सोमवार को ही कहा कि आज देश में गुंडागर्दी हो रही है, मनमर्जी के हिसाब से छापे मारे जा रहे हैं। मुझे दो दिन पहले ही पता लग गया था कि मेरे करीबियों के यहां छापे पड़ेंगे।

यह भी पढ़ें: CM गहलोत का Pilot पर अब तक का सबसे बड़ा हमला- जानता था वो निकम्मा, नाकारा, धोखेबाज है

छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल सरकार ने भी बना रखा है ये नियम

सीएम का यह बयान राजस्थान कांग्रेस के नेताओं के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी के बाद आया था। बता दें, राजस्थान कांग्रेस के दो बडे़ नेताओं राजीव अरोड़ा और धर्मेंद्र राठौड़ के ठिकानों पर यह छापेमारी हुई थी। इसके अलावा आयकर विभाग ने सीएम गहलोत के चार कथित करीबी लोगों को पूछताछ के लिए समन भेजा था। इन सभी को आयकर की धारा 131 के तहत नोटिस भेजा गया था। बता दें कि सीबीआई को बिना अनुमति के आने से रोकने वाला राजस्थान कोई पहला राज्य नहीं है। इससे पहले छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार और पश्चिम बंगाल में ममता सरकार भी सीबीआई को आने से रोकने का आदेश जारी कर चुकी हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group.

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है