Covid-19 Update

3497
मामले (हिमाचल)
2278
मरीज ठीक हुए
16
मौत
2,325,026
मामले (भारत)
20,378,854
मामले (दुनिया)

मुजफ्फरपुर: जिस अस्पताल में हुई 108 बच्चों की मौत, उसके पीछे मिले कई नरकंकाल

कंकाल के साथ ही अस्पताल के पिछले हिस्से में कुछ कपड़े भी दिख रहे हैं

मुजफ्फरपुर: जिस अस्पताल में हुई 108 बच्चों की मौत, उसके पीछे मिले कई नरकंकाल

- Advertisement -

नई दिल्ली। बिहार (Bihar) के मुजफ्फरपुर स्थित श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज व अस्पताल(एसकेएमसीएच) (Sri Krishna Medical College & Hospital Muzaffarpur) में चमकी बुखार के चलते 108 बच्चों की मौत हुई है। उसी अस्पताल के पीछे बड़ी मात्रा में फेंके हुए मानव कंकाल (Human skeletal) बरामद किए गए हैं। अस्पताल परिसर के बाहर झाड़ियों में नरकंकाल मिलने की सूचना पर हड़कंप मच गया है। नरकंकाल की सूचना मिलते ही इसकी जांच शुरू कर दी गई है। मानव शरीर के अवशेष मिलने के बाद अस्पताल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट एसके शाही ने कहा, ‘पोस्टमॉर्टम विभाग प्राचार्य के अधीन आता है, लेकिन इसमें मानवीय संवेदनाओं को ध्यान रखना चाहिए। मैं प्रिंसिपल से बात करूंगा और उन्हें इस मामले की जांच के लिए जांच कमेटी बनाने के लिए कहूंगा।’


 

यह भी पढ़ें: चमकी बुखार से अब तक 83 बच्चों की मौत, मुजफ्फरपुर पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन

गौरतलब है कि इन्सेफलाइटिस के चलते हुई मौतों से अस्पताल प्रशासन पहले ही सवालों के घेरे में है, दूसरी ओर बोरे में कंकाल मिलना हैरान करने वाला है। इस मामले की जो तस्वीरें सामने आ रही हैं, उसमें मानव कंकाल के साथ ही अस्पताल के पिछले हिस्से में कुछ कपड़े भी दिख रहे हैं। अस्पताल की एक टीम ने कंकाल मिलने की जगह का निरीक्षण भी किया है। बता दें कि इसी अस्पताल में एईएस से पीड़ित बच्चों का इलाज भी चल रहा है। प्रतिदिन एईएस से बच्चों की मौत हो रही है। जानकारी के मुताबिक आज भी अस्तपाल में तीन बच्चों ने दम तोड़ दिया है और अब पूरे प्रदेश में मौत का आंकड़ा 160 से ज्यादा हो गया है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें 

- Advertisement -

loading...
loading...
Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

















सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है