Covid-19 Update

36,566
मामले (हिमाचल)
28,080
मरीज ठीक हुए
575
मौत
9,266,697
मामले (भारत)
60,719,949
मामले (दुनिया)

मन की बात : गांधी जयंती पर खुले में शौच मुक्त होगा भारत, प्लास्टिक के खिलाफ चलाएंगे आंदोलन

मन की बात : गांधी जयंती पर खुले में शौच मुक्त होगा भारत, प्लास्टिक के खिलाफ चलाएंगे आंदोलन

- Advertisement -

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात के जरिए देशवासियों को संबोधित किया। इस दौरान मोदी ने कहा कि हमारा देश इन दिनों एक तरफ वर्षा का आनंद ले रहा है, तो दूसरी तरफ, हिंदुस्तान के हर कोने में किसी ना किसी प्रकार से, उत्सव और मेलों की धूम है। दीवाली तक, सब-कुछ यही चलेगा। पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा, ‘पिछले दिनों हम लोगों ने कई उत्सव (festival) मनाए। कल, हिन्दुस्तान में श्री कृष्ण जन्म-महोत्सव मनाया गया। कोई कल्पना कर सकता है कि कैसा व्यक्तित्व होगा, कि आज हजारों साल के बाद भी, समस्याओं के समाधान के लिए, उदाहरण दे सकता हो, हर कोई व्यक्ति, श्री कृष्ण के जीवन में से, वर्तमान की समस्याओं का समाधान ढूंढ सकता है।’ मोदी ने कई मुद्दों पर बात की जिनमें ये प्रमुख हैं …

 

पीएम मोदी ने महात्मा गांधी के 150वीं जयंती वर्ष के अवसर पर कहा कि आज जब हम, उत्सवों की चर्चा कर रहे हैं, तब भारत एक और बड़े उत्सव की तैयारी (preparation) में जुटा है। भारत के साथ-साथ दुनियाभर में इसकी चर्चा है। मैं बात कर रहा हूं महात्मा गांधी की 150वीं जयंती की।

 

गांधी ने किसानों की सेवा की जिनके साथ चंपारण में भेद-भाव हो रहा था। उन मिल मजदूरों की सेवा की जिन्हें उचित मजदूरी नहीं मिल रही थी, गांधी ने गरीब, बेसहारा और कमजोर लोगों की सेवा को अपने जीवन का परम कर्तव्य माना। सत्य के साथ, गांधी का जितना अटूट नाता रहा है, सेवा के साथ भी गांधी का उतना ही अनन्य अटूट नाता रहा है।

इस बार 2 अक्टूबर को जब बापू की 150वीं जयंती मनाएंगे तो इस अवसर पर हम उन्हें न केवल खुले में शौच से मुक्त भारत समर्पित करेंगे बल्कि उस दिन पूरे देश में प्लास्टिक के खिलाफ एक नए जन-आंदोलन की नींव रखेंगे।

आपसे बात कर रहा हूं तो, दो मोहन की तरफ, मेरा ध्यान जाता है। एक सुदर्शन चक्रधारी मोहन, तो दूसरे चरखाधारी मोहन।

हमें साथ मिलकर Single use plastic के इस्तमाल को खत्म करना है।

हमारी  संस्कृति में अन्न की बहुत अधिक महिमा रही है। संतुलित और पोषक भोजन हम सभी के लिए जरूरी है।

आज, जागरुकता के अभाव में, कुपोषण से ग़रीब भी और संपन्न भी, दोनों ही तरह के परिवार प्रभावित हैं। पूरे देश में सितंबर महीना ‘पोषण अभियान’ के रूप में मनाया जाएगा। आप जरुर इससे जुड़िये, जानकारी लीजिये, कुछ नया जोड़ियें।

 

मुझे आशा है कि ‘Man Vs Wild’ कार्यक्रम भारत का संदेश, भारत की परंपरा, भारत के संस्कार यात्रा में प्रकृति के प्रति संवेदनशीलता, इन सारी बातों से विश्व को परिचित कराने में ये episode बहुत मदद करेगा ऐसा मेरा पक्का विश्वास बन गया है।

भारत में पर्यावरण की care और concern यानि देखभाल की चिंता स्वाभाविक नजर आ रही है, लेकिन अब हमें conservation से आगे बढ़ कर compassion को लेकर सोचना ही होगा।

आपको याद होगा कि पिछले कुछ सालों में हम 2 अक्टूबर से पहले लगभग 2 सप्ताह तक देशभर में ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान चलाते हैं। इस बार ये 11 सितम्बर से शुरू होगा।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है