Covid-19 Update

20,370
मामले (हिमाचल)
17,572
मरीज ठीक हुए
286
मौत
7,895,155
मामले (भारत)
43,155,567
मामले (दुनिया)

नई शिक्षा नीति पर बोले PM Modi – देश के विकास के लिए लाभदायक साबित होगी

नई शिक्षा नीति पर बोले PM Modi – देश के विकास के लिए लाभदायक साबित होगी

- Advertisement -

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज देश की नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लेकर देशवासियों को संबोधित किया। शिक्षा मंत्रालय द्वारा आयोजित किए गए कॉन्क्लेव में उच्च शिक्षा पर पीएम ने मंथन किया। इस कार्यक्रम का नाम ‘Conclave on Transformational Reforms in Higher Education under National Education Policy’ है। कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल भी मौजूद रहे। यहां उन्होंने छठी कक्षा तक मातृभाषा में सिलेबस पढ़ाने के फायदे बताए। उन्होंने कहा कि जब बच्चे अपनी बोली में अपनी पढ़ाई करेंगे तो उन्हें ये अच्छे से समझ आएगी। इसे लेकर उनकी रुचि बढ़ेगी और आगे चलकर उनका हायर एजुकेशन में इसका बेस मजबूत होगा। उन्होंने कहा कि जितनी ज्यादा जानकारी स्पष्ट होगी फिर उतना ही आसान इस राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लागू करना भी होगा। पीएम मोदी ने कहा कि 3-4 साल के व्यापक विचार-विमर्श के बाद, लाखों सुझावों पर लंबे मंथन के बाद राष्ट्रीय शिक्षा नीति को स्वीकृत किया गया है।

 

 

पीएम मोदी ने बताया, कैसे नई शिक्षा नीति देश के विकास के लिए लाभदायक साबित होगी। उन्होंने बताया कि भारत के लोगों को ताकतवर और सशक्त बनाने के लिए इस शिक्षा नीति में खास ध्यान दिया गया है।

पीएम मोदी ने कहा कि ये सच है कि 34 साल बाद शिक्षा नीति में बदलाव किया गया है। ऐसे में हर बारीकी और सवालों पर ध्यान दिया गया है। उन्होंने बताया कि शिक्षा नीति को नया आकार देने से पहले दो सवालों को पर गंभीर रूप से विचार किया था।

 

 

पहला सवाल था, क्या नई शिक्षा नीति (New education policy) भविष्य में क्र‍िएटिवि‍टी, क्यूरोसिटी और कमिटमेंट मेकिंग पर लोगों को बांध कर रख पाएगी? दूसरा सवाल था। क्या हमारी शिक्षा व्यवस्था सशक्तिकरण करती है? पीएम मोदी ने कहा, ”जब नर्सरी का बच्चा भी नई तकनीक के बारे में पढ़ेगा, तो उसे भविष्य की तैयारी करने में आसानी होगी। कई दशकों से शिक्षा नीति में बदलाव नहीं हुआ था, इसलिए समाज में भेड़चाल को प्रोत्साहन मिल रहा था। कभी डॉक्टर-इंजीनियर-वकील बनाने की होड़ लगी हुई थी। अब युवा क्रिएटिव विचारों को आगे बढ़ा सकेगा, अब सिर्फ पढ़ाई नहीं बल्कि वर्किंग कल्चर को डेवलेप किया गया है।”

 

 

कॉनक्लेव में पीएम मोदी ने कहा कि आज देश भर में न्यू एजुकेशन पॉलिसी की व्यापक चर्चा हो रही है। अलग-अलग क्षेत्र के लोग, अलग-अलग विचारधाराओं के लोग अपने विचार दे रहे हैं, राष्ट्रीय शिक्षा नीति की समीक्षा कर रहे हैं।

ये एक स्वस्थ परंपरा है, ये जितनी ज्यादा होगी, उतना ही लाभ देश की शिक्षा व्यवस्था को मिलेगा। ये भी खुशी की बात है कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति आने के बाद देश के किसी भी क्षेत्र से, किसी भी वर्ग से ये बात नहीं उठी कि इसमें किसी तरह का भेदभाव है, या किसी एक ओर झुकी हुई है।

 

 

पीएम मोदी ने कहा कि कुछ लोगों के मन में ये सवाल आना स्वभाविक है कि इतना बड़ा रीफॉर्म कागजों पर तो कर दिया गया, लेकिन इसे जमीन पर कैसे उतारा जाएगा। यानी अब सबकी निगाहें इसे लागू करने की तरफ है। जहां तक राजनीतिक इच्छाशक्त‍ि की बात है, मैं पूरी तरह कमिटेड हूं, मैं पूरी तरह से आपके साथ हूं।

अपनी मातृभाषा में पढ़ाई को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि इस बात में कोई विवाद नहीं है कि बच्चों के घर की बोली और स्कूल में पढ़ाई की भाषा एक ही होने से बच्चों के सीखने की गति बेहतर होती है। यह एक बहुत बड़ी वजह है, इसलिए जहां तक संभव हो 5th class तक बच्चों को उनकी मातृभाषा में ही पढ़ाने पर सहमति दी गई है।

 

 

यह भी पढ़ें – नई शिक्षा नीति: स्कूली बच्चों को अब Mid Day Meal के साथ नाश्ता कराने की तैयारी; जानें पूरा प्लान

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

सरकारी नौकरी: HP में 10वीं पास के लिए एक्साइज एंड टैक्सेशन विभाग ने मांगे ड्राइवर के पदों पर आवेदन

बिक्रम की Sushant को सलाहः मर्यादाओं के अनुरूप करें व्यवहार, जनता सब जानती है

शिमला के सुन्नी से Missing 2 नाबालिग लड़कियां Sundernagar से बरामद, किया ये खुलासा

Fatehpur : गौशाला से आग बुझाकर निकली Fire Brigade की टीम, कुछ देर में फिर भड़की

Role model बनेगी बेटियांः होर्डिग्स पर लगेगी Photo, घर के बाहर Name plate

#Festive_Season में ग्राहकों को खुश करना का जबरदस्त तरीका, Mall में बना दिया राम मंदिर

#Viral_Video : मास्क नहीं पहनने का कारण पूछा तो शख्स बोला - कोई छींकता है तो रोक लेते हैं सांस

Sanjay Kundu बोले, पर्यटन स्थलों की निगरानी करेंगे ड्रोन, प्रदेश में लगेंगे 68 हजार CCTV

#Corona_ Update: हिमाचल में आज 157 नए मामले और 272 ठीक-एक की मृत्यु

Solan युवक मौत मामलाः Police कर्मी सहित तीन हिरासत में, जांच जारी

#Una_Dussehra में जलेंगे चार पुतले, रावण-मेघनाथ और कुंभकर्ण के साथ बनाया #Corona का पुतला

#Shimla: महिला अपराध के खिलाफ सड़कों पर उतरी Himachal Congress, किया प्रदर्शन

#Vijayadashami पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने किया शस्त्र पूजन,107 मंडलों में हुआ आयोजन

Mahatpur में पिंजाई की दुकान में लगी Fire, ट्रक भी आया चपेट में

#NCB की टीम के हत्थे चढ़ा ड्रग्स सप्लायर गैंग, TV Actress रंगे हाथ पकड़ी

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board

#Himachal के इन स्कूलों में सर्दियों की छुट्टियों पर चलेगी कैंची, प्रस्ताव तैयार

जवाहर नवोदय विद्यालय कक्षा 6 का #Entrance_Exam अब 7 नवंबर को

स्कूलों के बाद अब Colleges खोलने की तैयारी, नवंबर से आएंगे Practical विषयों के छात्र

TET Exam में इन अभ्यर्थियों को मिली छूट, बिना आवेदन दे सकेंगे परीक्षा, बस करना होगा ये काम

#Himachal में School खोलने की तैयारी में सरकार, क्या रहेगा प्लान पढ़े यहां

Big Breaking: हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने टैट परीक्षा का शेड्यूल किया जारी- जानिए

#HPBose: 9वीं, 10वीं, 11वीं और 12वीं कक्षाओं के छात्रों को बड़ी राहत- पढ़ें खबर

हिमाचल में 100% मास्टर जी लौट आए #School, बनने लगा स्टूडेंट्स के लिए माइक्रो प्लान

SMC शिक्षकों को बड़ी राहत, #Supreme_Court ने हिमाचल हाईकोर्ट के फैसले पर लगाई रोक

गोविंद ठाकुर बोले- #Himachal में स्कूल खोलने हैं या नहीं, 9 को होगा फैसला

शिक्षा विभाग ने तैयार किया #Himachal में स्कूल खोलने का प्रस्ताव; जानें क्या है योजना

D.El.Ed CET 2020: 12 से 23 अक्टूबर तक होगी स्क्रीनिंग, अभ्यर्थी करें ऐसा

Himachal में 530 हेड मास्टर और लेक्चरर बने प्रिंसिपल, पर वेतन बढ़ोतरी को करना होगा इंतजार

बिग ब्रेकिंगः हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने आठ विषयों की TET परीक्षा का Result किया आउट

#HPBose: बोर्ड ने छात्र हित में लिया फैसला, 30 तक बढ़ाई यह तिथि



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है