राज्यसभा: कांग्रेस ईवीएम लेकर आई, अब हार का ठीकरा उसी पर फोड़ रही है

पीएम ने पूछा- क्या वायनाड और रायबरेली में हिन्दुस्तान हार गया

राज्यसभा: कांग्रेस ईवीएम लेकर आई, अब हार का ठीकरा उसी पर फोड़ रही है

- Advertisement -

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण (President Address) पर संसद के दोनों सदनों पर चर्चा जारी है। लोकसभा में मंगलवार को अभिभाषण का जवाब देने के बाद आज पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने आज राज्यसभा (Rajya Sabha) में अपना जवाब (replying to Motion Of Thanks) दिया। इस दौरान पीएम मोदी ने एक बार फिर से कांग्रेस (Congress) को अपने निशाने पर लेते हुए कांग्रेस पर करारा हमला किया। पीएम ने इस दौरान कहा कि आज चुनाव बाद मतदान प्रतिशत बढ़ने की चर्चा होती है लेकिन पहले हिंसा और बूथ कैप्चरिंग की चर्चा होती थी। 1977 में सबसे पहले ईवीएम (EVM) की चर्चा शुरू हुई तब हम राजनीति में कहीं नजर नहीं आते थे और 1988 में इसी सदन में बैठे लोगों ने कानूनन इस व्यवस्था को मंजूरी दी, हम तब भी नहीं थे। ईवीएम भी कांग्रेस ने ही किया था और आज हार गए तो रो रहे हो। ईवीएम से अब तक 113 विधानसभाओं के चुनाव हुए हैं और यहां बैठे सभी दलों को उसी ईवीएम से सत्ता में आने का मौका मिला है।


यह भी पढ़ें:- 51 सांसदों के मनाने के बाद भी इस्तीफा वापस न लेने पर अड़े राहुल, बोले- नही रहेंगे अध्यक्ष


पीएम मोदी के जवाब की 5 महत्वपूर्ण बातें

1- जब पीएम ने किया मीडिया का बचाव: मीडिया के कारण हम चुनाव जीत गए यह तक कहा गया क्या मीडिया बिकाऊ है। जिन राज्यों में हमारी सरकार नहीं है उनमें भी यही लागू होगा क्या। तमिलनाडु और केरल में भी यही लागू होगा क्या। भारत की चुनाव प्रक्रिया दुनिया में भारत की प्रतिष्ठा बढ़ाने का अवसर होती है और इसे हमें खोना नहीं चाहिए। चुनाव में महिलाओं ने भी अपनी भागीदारी बढ़ाई है और पुरुषों के बराबर महिलाओं ने वोट किया और 78 महिला सांसद चुनकर आई हैं।

2- क्या वायनाड और रायबरेली में हिन्दुस्तान हार गया: चुनाव में देश हार गया, लोकतंत्र हार गया तो क्या वायनाड और रायबरेली में हिन्दुस्तान हार गया, क्या अमेठी में हिन्दुस्तान हार गया। कांग्रेस हारी तो देश हार गया ये कौन का तर्क है, कांग्रेस का मतलब देश नहीं, अहंकार की एक सीमा होती है। 60 साल तक देश में सरकार चलाने वाला दल 17 राज्यों में एक सीट नहीं जीत पाया क्या हम आसानी से कह देंगे कि देश हार गया। इस तरह के बयान से हमने देश के मतदाताओं को कटघरे में खड़ा कर दिया, वोटरों का ऐसा अपमान इस तरह की पीड़ा देता है।

यह भी पढ़ें :-पीएम मोदी से मिले अमेरिकी विदेश मंत्री पोंपियो, एस-400 समझौते और कई मुद्दों पर होगी चर्चा

3- अगर न्यू इंडिया बनाना चाहते हैं तो तकनीक से कितना दूर भागेंगे: आप सिर्फ ईवीएम का विरोध नहीं करते, आपने विरोधी दल के मतलब के शब्द के रूप में उतार लिया है और हर चीज का विरोध करते हैं। डिजिटल लेन-देन का विरोध हुआ, आधार का विरोध किया जिसे आप महान बताते थे, हम अगर न्यू इंडिया बनाना चाहते हैं तो तकनीक से कितना दूर भागेंगे। जीएसटी का भी विरोध किया गया, यह नकारात्मकता है। जिन दलों का व्यवहार इस सदन में रुकावट डालने का रहा है, सरकार को काम करने से रोकने का रहा है, उन्हें देशवासियों ने सजा दी है।

4- मॉब लिंचिंग गलत लेकिन पूरे झारखंड को दोषी ठहराना कैसे सही: झारखंड को मॉब लिंचिंग का अड्डा बताया गया, युवक की हत्या का दुख मुझे भी है और सबको होना चाहिए। दोषियों को सजा होनी चाहिए, लेकिन इसके बिनाह पर एक राज्य को दोषी बताना क्या हमें शोभा देता है फिर तो हमें वहां अच्छा करने वाले लोग ही नहीं मिलेंगे, सबको कटघरे में लाकर राजनीति तो कर लेंगे लेकिन हालात नहीं सुधार पाएंगे। अपराध होने पर उचित रास्ता संविधान, कानून और व्यवस्था से निकलता है और उसके लिए जितना कर सकते हैं करना चाहिए, पीछे नहीं हटना चाहिए।

5- चमकी बुखार हमारे लिए शर्म और दुख की बात है: यह हमारे लिए शर्म और दुख की बात है और इसे हम सभी को गंभीरता से लेना होगा। पीएम मोदी ने कहा पूर्वी उत्तर प्रदेश में इन दिनों अच्छी स्थिति नजर आ रही है। संकट से बाहर निकालने के लिए बिहार के सीएम के संपर्क में हैं और हमारे स्वास्थ्य मंत्री भी इस ओर ध्यान दे रहे हैं।

अब मोदी का संबोधन समाप्त हो चुका है और इस पर लाए गए संशोधनों को सदन ने ध्वनिमत से खारिज कर दिया।

 

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

जयराम ने हमीर उत्सव का किया आगाज, शोभा यात्रा में लिया भाग

हिमाचल: अच्छे दिन जाने वाले हैं! दो दिन बाद फिर बिगड़ेगा मौसम, जानें

पच्छाद उपचुनाव में कांग्रेस की हार पर मंथन, 3 घंटे अलग-अलग हुई बातचीत

हिमाचल: 200 युवाओं को मिलेगा रोजगार, 14500 रुपए होगा वेतन

बुजुर्ग महिला क्रूरता मामले के 8 आरोपियों को हाईकोर्ट से मिली जमानत

CRPF जवान सुपुर्द-ए-खाक, परिजनों ने गुमराह करने का जड़ा आरोप

अब एसएचओ सहित दो कांस्टेबलों की बहाली के विरोध में उतरे लोग

तेलंगाना पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया- कैसे हुआ एनकाउंटर? जानें

90% जल चुकी उन्नाव रेप पीड़िता बहुत नाज़ुक, बचने की संभावना बेहद कम: डॉक्टर

सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ हिमाचल प्रदेश: फैकल्टी पदों पर निकली बंपर वैकेंसी, यहां देखें

राठौर बोले- कांग्रेस की एकजुटता से प्रदेश सरकार परेशान

बारात देखने छत पर खड़े थे लोग, अचानक टूटी रेलिंग, बुजुर्ग महिला की मौत

धर्मशाला में ओबीसी बैंक में लगी आग, हमीरपुर में जली दुकान, लाखों का नुकसान

अपना बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो यहां करें अप्लाई, 72 घंटे में मिलेगा पैसा

हैदराबाद प्रकरण पर बोले जयराम- इस तरह की घटनाओं पर रोक लगाना जरूरी

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है