Covid-19 Update

43,500
मामले (हिमाचल)
34,555
मरीज ठीक हुए
698
मौत
9,606,810
मामले (भारत)
65,907,507
मामले (दुनिया)

श्रम कानूनों में बदलाव को राहुल ने बताया गलत; बोले- Corona संकट मजदूरों के शोषण का बहाना नहीं हो सकता

श्रम कानूनों में बदलाव को राहुल ने बताया गलत; बोले- Corona संकट मजदूरों के शोषण का बहाना नहीं हो सकता

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कई राज्यों में बीते दिनों श्रम कानून में हुए बदलावों को लेकर अपनी तरफ से चिंता व्यक्त की है। राहुल गांधी ने कई राज्यों में श्रम कानूनों (Labor laws) में संशोधन किए जाने की आलोचना करते हुए सोमवार को कहा कि कोरोना संकट श्रमिकों के शोषण और उनकी आवाज दबाने का बहाना नहीं हो सकता। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘अनेक राज्यों द्वारा श्रमकानूनों में संशोधन किया जा रहा है। हम कोरोना के खिलाफ मिलकर संघर्ष कर रहे हैं, लेकिन यह मानवाधिकारों को रौंदने, असुरक्षित कार्यस्थलों की अनुमति, श्रमिकों के शोषण और उनकी आवाज दबाने का बहाना नहीं हो सकता।’

यह भी पढ़ें: Rail Travel के लिए गृह मंत्रालय ने जारी किए निर्देश; यात्रा से पहले जानें ये जरूरी बातें

कांग्रेस नेता ने आगे लिखा कि इन मूलभूत सिद्धांतों पर कोई समझौता नहीं हो सकता। बता दें कि लॉकडाउन के कारण कामकाज ठप होने के बाद कई राज्य सरकारों ने अपने यहां श्रम कानूनों में बदलाव किया है। इनमें उत्तर प्रदेश, गुजरात और मध्य प्रदेश की सरकार भी शामिल हैं। इन राज्यों ने कानून में बदलाव कर उद्योगों को राहत देने की तैयारी की है, तो वहीं इसका भार मजदूरों पर पड़ता नज़र आ रहा है। कई राज्यों ने अपने यहां श्रमिकों के लिए कामकाज के घंटे को आठ घंटे से बढ़ाकर 12 घंटे कर दिया है। कांग्रेस के नेता पिछले कई दिनों से श्रम कानूनों में बदलाव का विरोध कर रहे हैं। राहुल के अलावा कई सारे विपक्ष के नेता और कई संगठन जहां इसे मजदूरों को बंधवा करने वाले कानून कह रहे हैं तो सरकारों का तर्क है कि लॉकडाउन की वजह से ठप हुए उद्योग-धंधों को पटरी पर लाने के लिए ये किया गया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है