Covid-19 Update

43,500
मामले (हिमाचल)
34,555
मरीज ठीक हुए
698
मौत
9,606,810
मामले (भारत)
65,907,507
मामले (दुनिया)

‘मैं राहुल गांधी जी को कहना चाहूंगा कि हाथ में दर्द हो तो दवा कीजिए, यदि हाथ ही दर्द हो तो क्या कीजिये!’

‘मैं राहुल गांधी जी को कहना चाहूंगा कि हाथ में दर्द हो तो दवा कीजिए, यदि हाथ ही दर्द हो तो क्या कीजिये!’

- Advertisement -

नई दिल्ली। केंद्रीय रक्षा मंत्री और बीजेपी नेता राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए महाराष्ट्र जन-संवाद रैली (Maharashtra Jan-Samvad Rally) को संबोधित किया। राजनाथ सिंह ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर शायराना अंदाज में पलटवार किया।

राहुल के शेर पर राजनाथ का जवाब फिर कांग्रेस ने भी दागा शेर

बता दें कि राहुल गांधी ने भारत की चीन के बीच जारी सीमा विवाद को लेकर गृह मंत्री अमित शाह के बयान के जवाब में एक शेर ट्वीट करते हुए लिखा था कि सब को मालूम है ‘सीमा’ की हक़ीक़त लेकिन, दिल के ख़ुश रखने को, ‘शाह-यद’ ये ख़्याल अच्छा है।

यह भी पढ़ें: हरियाणा में हिन्दी को कोर्ट की आधिकारिक भाषा बनाने के खिलाफ याचिका SC से खारिज

जिस पर राजनाथ सिंह ने करारा पलटवार करते हुए कहा कि मैं राहुल गांधी जी को कहना चाहूंगा कि हाथ में दर्द हो तो दवा कीजिए, यदि हाथ ही दर्द हो तो क्या कीजिये! रक्षा मंत्री ने ट्विटर पर भी राहुल के ट्वीट पर इसे शेर से पलटवार किया है। वहीं राजनाथ सिंह के इस बयान के बाद कांग्रेस की तरफ से भी शायराना पलटवार किया गया है। छत्तीसगढ़ कांग्रेस की ओर से एक ट्वीट में लिखा, एक काबिल का ही शेर थोड़ा अलग अन्दाज में है। ‘सवालों’ की आंच हो तो हवा कीजै, ‘सवाल’ ही जब आंच हो तो ‘कड़ी निंदा; कीजै।।

विपक्ष को कहता हूं कि भारत-चीन मामले पर हमें ज्यादा समझाने की कोशिश मत कीजिए

वहीं वर्चुअल रैली में चीन के मसले पर रक्षा मंत्री ने कहा कि हम किसी के मान, सम्मान पर न चोट पहुंचाते हैं और न अपने मान, सम्मान और स्वाभिमान पर चोट बर्दाश्त कर सकते हैं। इसलिए विपक्ष को कहता हूं कि भारत-चीन मामले पर हमें ज्यादा समझाने की कोशिश मत कीजिए। आगे राजनाथ ने कहा कि कोरोना वैश्विक बीमारी से दुनिया प्रभावित हुई है। इस चुनौती को भारत ने एक दृढ़ निश्चय के साथ स्वीकार किया। भारत सरकार के प्रयासों के कारण ही कोरोना संकट में दुनिया के कई विकसित देशों की तुलना में भारत की स्थिति काफी बेहतर है।

महाराष्ट्र की सरकार तीन दलों की सरकार है, लगता है सरकार के नाम पर सर्कस हो रहा है

कोरोना को लेकर जिस प्रकार के हालात महाराष्ट्र में पैदा हुए हैं, वो एक गंभीर चिंता का विषय है। महाराष्ट्र में पैदा हुई चुनौती से निपटने के लिए जितना सहयोग हो सकता है वो सहयोग मोदी सरकार कर रही है। तंज भरे लहजे में राजनाथ सिंह ने कहा कि महाराष्ट्र की सरकार तीन दलों की सरकार है। लगता है सरकार के नाम पर सर्कस हो रहा है। विकास का जिस प्रकार का विजन महाराष्ट्र सरकार के पास होना चाहिए, वो नहीं है। यहां हालात देखें तो लगता है कि महाराष्ट्र में सरकार नाम की चीज नहीं है। उन्होंने कहा कि जब चुनाव लड़ना हुआ तो बीजेपी और शिवसेना का गठबंधन हुआ, लेकिन गठबंधन के बाद सत्ता की भूख में बीजेपी को धोखा दिया गया। मैं बीजेपी के चरित्र को स्पष्ट करना चाहता हूं कि हम धोखा खा सकते हैं, लेकिन धोखा कभी दे नहीं सकते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है