स्वतंत्रता दिवस 2019 : जानें लाल किले से अपने भाषण में क्या बोले पीएम मोदी

तीन तलाक, कश्मीर मुद्दा, जल संकट और जनसंख्या विस्फोट जैसे मुद्दे रहे चर्चा में

स्वतंत्रता दिवस 2019 : जानें लाल किले से अपने भाषण में क्या बोले पीएम मोदी

- Advertisement -

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) भारत के 73वे स्वतंत्रता दिवस के मौके पर छठी बार लाल किले पर स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) का भाषण दिया। इस बार भी पीएम का अंदाज कुछ हटकर दिखा। इस मौके पर इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi)ने कई अहम मुद्दों पर बात की, जिसमें तीन तलाक बिल, कश्मीर मुद्दा, जल संकट और जनसंख्या विस्फोट जैसे मुद्दे शामिल रहे। पीएम मोदी ने इस मौके पर बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि अब देश में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ होगा। इसके अलावा देश के इंफ्रास्ट्रक्चर पर 100 लाख करोड़ रुपए का निवेश करने का भी पीएम ने ऐलान किया।


यह भी पढ़ें- पीएम मोदी का विपक्ष पर वार: आर्टिकल 370 इतना अच्छा था तो स्थाई क्यों नहीं किया…

पीएम नरेंद्र मोदी ने जनसंख्या विस्फोट पर वार करते हुए कहा, तेजी से बढ़ती जनसंख्या पर हमें आने वाली पीढ़ी के लिए सोचना होगा। सीमित परिवार से न सिर्फ खुद का बल्कि देश का भी भला होने वाला है। जो सीमित परिवार के फायदे को लोगों को समझा रहे हैं, उन्हें आज सम्मानित करने की जरूरत है। छोटा परिवार रखने वाले देशभक्त की तरह हैं। घर में किसी भी बच्चे के आने से पहले सोचें कि क्या हम उसके लिए तैयार हैं, उसकी जरूरतों को पूरा करने के लिए हम तैयार हैं।’

पीएम ने कहा, अब जरूरत है कि धीरे-धीरे सरकारें लोगों के जीवन से बाहर निकले और लोग आजादी (Freedom) से अपने आप को आगे बढ़ा सकें। किसी पर भी सरकार का दबाव नहीं होना चाहिए, लेकिन मुसीबत के वक्त में सरकार हमेशा लोगों के साथ खड़े होना चाहिए। हमारी सरकार ने रोजाना एक कानून को खत्म किया है, ताकि लोगों पर से बोझ कम हो सके। इस सरकार के 10 हफ्तों में भी 60 कानूनों को खत्म किया जा चुका है।

पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने को लेकर बात करते हुए कहा कि सभी राजनीतिक दलों (Political parties) में कोई न कोई ऐसा व्यक्ति है, जो अनुच्छेद 370 के खिलाफ या तो प्रखर रूप से या फिर मुखर रूप से बोला। लेकिन जो लोग इसकी वकालत कर रहे हैं उनसे देश पूछ रहा है कि ये इतना जरूरी था, तो 70 साल से आर्टिकल 370 को स्थाई क्यों नहीं किया? क्यों इसे अस्थाई बना रखा था, क्योंकि आप में हिम्मत नहीं थी।’

तीन तलाक (Triple Talaq) पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश की मुस्लिम बेटियां डर जिंदगी जी रही थीं। भले ही वो तीन तलाक का शिकार नहीं बनी हों, लेकिन उनके मन में डर रहता था। तीन तलाक को इस्लामिक देशों ने भी खत्म कर दिया था, तो हम क्यों नहीं कर सकते थे। अगर देश में दहेज, भ्रूण हत्या के खिलाफ कानून बना सकते हैं तो तीन तलाक के खिलाफ क्यों नहीं।’

भाषण में पीएम मोदी ने की ये बड़ी घोषणाएं

1.5 लाख हेल्थ सेंटर

हर तीन लोकसभा के बीच एक मेडिकल कॉलेज की स्थापना

2 करोड़ से अधिक लोगों के लिए घर बनाना

15 करोड़ घरों में पीने का पानी पहुंचाना

सवा लाख किलोमीटर गांव की सड़कों को बनाना

हर गांव को ब्रॉडबैंड और फाइबर कनेक्विटी से जोड़ना

50 हजार से ज्यादा नए स्टार्ट अप का जाल बिछाना


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

ब्रेकिंग: सियाचिन में हिमस्खलन, चार सैनिक और दो नागरिकों की मौत

बिग ब्रेकिंगः Ravinder Ravi के कहने पर ही मसंद ने वायरल की थी पोस्ट, रिपोर्ट में खुलासा

कोटखाई में सड़क हादसा, दो लोगों की मौत- जांच में जुटी पुलिस

दलाई लामा से मिले बंडारू दत्तात्रेय, तिब्बतियों को पूर्ण समर्थन का दिया आश्वासन

Important : अब गैर हिमाचलियों की तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के पदों पर नहीं होगी नियुक्ति

जयराम बोलेः अप्रशिक्षित व अनुभवहीन पैराग्लाइडर पर होगी कार्रवाई

कैबिनेट का बड़ा फैसला : भरी जाएंगी फार्मासिस्ट की यह 200 पोस्ट

जवाली महिला मौत मामलाः सड़क पर शव रख एक घंटा चक्का जाम, दर्ज हो मर्डर केस

कुल्लू: पत्नी संग हनीमून मनाने आया था युवक, पैराग्‍लाइडिंग हादसे में चली गई जान

जयराम सरकार यहां मनाएगी दो साल का जश्न, लगी मुहर

Live : विधानसभा का शीतकालीन सत्र दिसंबर की किस तारीख से, कैबिनेट में हुआ फैसला

सुंदर ठाकुर बोले- डबल इंजन कहलाने वाली सरकार का इंजन सीज हो गया

गाइड की सताई छात्रा ऐसे रोई कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर पर आफत बन आई ,देखें वीडियो

केजरीवाल सरकार का बड़ा ऐलान : बिजली, पानी और यात्रा के बाद अब ये सेवा होगी मुफ्त

जेएनयू छात्रों का संसद मार्च शुरू : बैरिकेड तोड़े, पुलिस के साथ धक्का-मुक्की, छात्र हिरासत में

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है