×

स्वस्थ रहना है जरूरी : जानिए क्या खाएं और क्या छोड़ें

स्वस्थ रहना है जरूरी : जानिए क्या खाएं और क्या छोड़ें

- Advertisement -

इन दिनों राष्ट्रीय पोषण सप्ताह मनाया जा रहा है। यह आयोजन मात्र जागरूक करने के लिए है कि आप के लिए किस तरह का खान-पान सही है और क्या नहीं। जाहिर है कि बेहतर पोषाहार वही कहा जाएगा जो आपके स्वास्थ्य के लिए जरूरी और सही है। हालांकि पोषण और संतुलित आहार को लेकर ढेरों जानकारियां उपलब्ध हैं फिर भी इस तरह की जानकारियों के बदले  अच्छा यही होगा कि आप वही खाएं जो संतुलित आहार हो। इसी के साथ एक्सरसाइज भी करते रहना वजन कम करेगा, अच्छा स्वास्थ्य देगा और अच्छी फिटनेस के साथ आपको परफेक्ट भी करेगा। पर इससे पहले जरूरी है कि उन भ्रांतियों को समझ लें जो पोषाहार को लेकर फैली हुई हैं जैसे कि फैट नुकसानदेय है। आइए जानते हैं स्वस्थ रहने के लिए क्या खाएं और किन से बचें …
सारे ही फैट एक जैसे नहीं होते जिन्हें छोड़ देना जरूरी हो। आपको चिप्स, रेड मीट और प्रॉसेस्ड फूड से बचना होगा पर नट्स, सीड्स, फिश और लो फैट वाले डेयरी उत्पाद आप अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं। इन्हें लेना आपके लिए आवश्यक है क्योंकि ये कोशिकाओं की क्षतिपूर्ति करते हैं और हार्मोंन्स के विकास में सहायक हैं।
डायबिटीज के रोगियों के खून में शर्करा की मात्रा अधिक होती है ,पर इसका मतलब यह नहीं कि चीनी उनके लिए खतरनाक है। टाइप1 डायबिटीज तब होती है जब पैंक्रियाज के वे सेल नष्ट हो जाते हैं जो इंसुलिन बनाते हैं। चीनी तब आपके लिए नुकसान देह होती है जब आप मोटे हो जाते हैं आपकी शारीरिक गतिविधियां भी कम हो जाती हैं । यह स्थिति आपको टाइप 2  डायबिटीज तक ले जा सकती है।
डेजर्ट से दूर जाने की जरूरत नहीं है। हां, कुछ डेजर्ट ऐसे हैं जो आपको ओवर ईटिंग के लिए मजबूर कर देते हैं। जिनमें मीठे की मात्रा अधिक होती है इससे मोटापा बढ़ता है। आप वही डेजर्ट खाएं जो हेल्दी हों,जिनमें पोषक तत्व शामिल हों और चीनी कम हो।
पोषण का एक आवश्यक नियम है कि जूस की जगह फल ज्यादा लाभदायक है। जूस में कैलोरी ज्यादा और फाइबर कम होता है,जबकि फल आपको पोषण और फाइबर दोनों देता है जो पाचन में सहायक होता है। इसके अलावा इसमें प्राकृतिक मिठास भी होती है।
नमक के खतरे से हम सभी वाकिफ हैं फिर भी काफी लोगों का मानना है कि समुद्री नमक हमारे लिए अच्छा है। इस बात को ध्यान में रखें, कि समुद्री नमक में सोडियम की काफी मात्रा होती है। आप इसे जब भी उपयोग में लाएं तो नमक की मात्रा कम ही रखें।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है