Covid-19 Update

56,874
मामले (हिमाचल)
55,278
मरीज ठीक हुए
953
मौत
10,558,710
मामले (भारत)
94,959,015
मामले (दुनिया)

आज से यहां मिल रहा सस्ता सोना, सरकार दे रही आखिरी मौका

9वीं सीरीज के लिए 5000 रुपए प्रति ग्राम का भाव तय हुआ

आज से यहां मिल रहा सस्ता सोना,  सरकार दे रही आखिरी मौका

- Advertisement -

आज से सस्ता सोना (Cheap Gold) खरीदने के लिए तैयार हो जाएं,ये आखिरी मौका आपको सरकार देने जा रही है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की अगली किस्त आज यानी 28 दिसंबर से आ गई है। इसमें आप सस्ते में सोना खरीद के अपने निवेश को बढ़ा सकते हैं। बता दें 2020-21 की 9वीं सीरीज के लिए 5000 रुपए प्रति ग्राम का भाव तय हुआ है। यानि 10 ग्राम का भाव 50,000 रुपये हुआ, जो कि मार्केट रेट से कम है। इसमें आप 28 दिसंबर से लेकर पहली जनवरी 2021 तक निवेश कर सकते हैं। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेशक को फिजिकल रूप में सोना नहीं मिलता, यह फिजिकल गोल्ड की तुलना में अधिक सुरक्षित है। इसमें निवेश करने वालों के गोल्‍ड बॉन्‍ड सर्टिफिकेट दिया जाता है। मैच्योरिटी पूरा होने के बाद जब निवेशक इसे भुनाने जाता है तो उसे उस वक्त के गोल्ड वैल्यू के बराबर पैसा मिलता है। इसका रेट पिछले तीन दिनों के औसत क्‍लोजिंग प्राइस पर तय होता है, बॉन्‍ड की अवधि में पहले से तय दर से निवेशक को ब्‍याज का भुगतान किया जाता है।

यह भी पढ़ें: सरकार की इस स्कीम से मिलेगा सस्ते में सोना खरीदने का मौका, मिलेंगे यह फायदे भी

अगर आप सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन करते हैं तो आपको इसमें प्रति ग्राम 50 रुपए का डिस्काउंट मिलेगा। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में इश्यू प्राइस पर हर साल 2.50 फीसदी का निश्चित ब्याज मिलता है। बता दें ब्याज का पैसा हर छमाही आपके खाते में ट्रांसफर हो जाता है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड का मैच्योरिटी पीरियड 8 साल का होता हैए लेकिन निवेशक इसको 5 साल में भी ब्रेक कर सकता है। इसके अलावा लोन लेते समय आप इसका इस्तेमाल कोलैटरल के रूप में भी कर सकते हैं। इसके अलावा अगर गोल्ड बॉन्ड के मैच्योरिटी पर कोई कैपिटल गेन्स बनता है तो इसपर छूट भी मिलती है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया भारत सरकार की ओर से सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड 2020.21 (Sovereign Gold Bond 2020-21) जारी करता है। बॉन्ड में निवेशक एक ग्राम के मल्टीप्लाई में निवेश कर सकते हैं।

स्‍कीम के तहत व्यक्तिगत निवेशक और हिंदू अविभाजित परिवार एक वित्त वर्ष में कम से कम एक ग्राम और अधिकतम चार किलोग्राम गोल्‍ड के लिए निवेश कर सकते हैं। ट्रस्ट और ऐसी ही दूसरी इकाइयां हर साल 20 किग्रा सोने में निवेश कर सकते हैंए गोल्ड बॉन्ड की बिक्री बैंकों स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (Stock Holding Corporations of India) डाकघरों और मान्यता प्राप्त शेयर बाजारों के जरिए की जाएगी। बॉन्ड में वह व्यक्ति निवेश कर सकता है जो कि भारत में निवास करता होए वह अपने स्वयं के लिएए किसी दूसरे व्यक्ति के साथ संयुक्त रूप से बॉन्ड धारक हो सकता है या फिर नाबालिग की ओर से भी इस गोल्ड बॉन्ड को खरीद सकता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Like करें हिमाचल अभी अभी का Facebook Page…. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है