×

एंटीलिया स्कॉर्पियो केस : आरोपी असिस्टेंट इंस्पेक्टर वाझे ने शोहरत पाने को रची साजिश

एनआईए का दावा करीब-करीब सुलझा लिया गया है केस

एंटीलिया स्कॉर्पियो केस : आरोपी असिस्टेंट इंस्पेक्टर वाझे ने शोहरत पाने को रची साजिश

- Advertisement -

नई दिल्ली। मुंबई में देश के सबसे बड़े उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया (Mukesh Ambani House) के बाहर स्कॉर्पियो कार से विस्फोटक सामग्री मिलने के मामले में कई खुलासे हो रहे हैं। इस मामले में एनआईए (NIA) असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर सचिन वाझे (Sachin Vaze) को गिरफ्तार कर चुकी है, लेकिन अब मामले को लेकर रोज नए खुलासे हो रहे हैं। एनआईए के मुताबिक सचिन वाझे ने खुद को इस पूरे मामले का मास्टर माइंड बताया है, लेकिन एनआईए (NIA) को इस बारे में शक है।


यह भी पढ़ें: कोरोना का कहर : हिमाचल के पड़ोसी राज्य पंजाब में स्कूल-कॉलेज 31 मार्च तक बंद, परीक्षाएं टलीं

ऐसे में अभी भी एनआईए सचिन वाझे के पीछे कौन व्यक्ति था इसके बारे में पता लगाने में जुटी हुई है। उधर, अब यह भी कहा जा रहा है कि सचिन वाझे सरकारी नौकरी के साथ कई कंपनियों (Companies) से भी जुड़ा हुआ थे। यही नहीं, सचिन वाझे इन कंपनियों में डायरेक्टर (Director) पद पर था। इसके साथ ही जांच एजेंसियां की ओर से ऐसा दावा किया जा रहा है कि एंटीलिया (Antilia) के बाहर विस्फोटक वाली स्कॉर्पियो खड़ी करवाने से पहले सचिन वाझे और मनसुख हिरेन (Sachin Vaze and Mansukh Hiren) की मुलाकात हुई थी।

यह भी पढ़ें: हिमाचली अंपायर वीरेंद्र शर्मा को इतना प्यार नहीं भेजा, जितनी एक मैच के लिए लानतें-मलानतें भेज दीं

आपको बता दें कि मनसुख हिरेने ही स्कॉर्पियो कार (Scorpio Car) का मालिक था, लेकिन स्कॉर्पियो कार से विस्फोटक बरामद होने के कुछ दिन बात मनसुख हिरेन की मौत हो गई थी। इस मामले में भी हत्या का केस दर्ज किया गया है। उधर, बताया जा रहा है कि सचिन वाझे कम से कम तीन कंपनियों में डायरेक्टर था। 2010 से 2013 के बीच वो इन कंपनियों से जुड़ा। हालांकि इनमें से दो कंपनियां (Companies) अब बंद भी हो चुकी हैं। इन कंपनियों के नाम थे मल्टीबील्ड इंफ्राप्रोजेक्ट्स लिमिटेड और टेकलेगल सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड। तीसरी कंपनी डिजीनेक्स्ट मल्टी मीडिया लिमिटेड है। यह कंपनी अभी भी मुंबई में कंपनी रजिस्ट्रार में रजिस्टर्ड है। इसमें सचिन वाझे डायरेक्टर (Sachin Vaze) पद पर तैनात है।

इस पूरे मामले की बीच महाराष्ट्र की राजनीति (Politics) में भी बवाल मचा हुआ है। एंटीलिया केस की जांच एनआईए कर रही है। सूत्रों के मुताबिक एंटीलिया के बाहर पूरी साजिश सचिन वाझे ने सिर्फ और सिर्फ पब्लिसिटी पाने और यह साबित करने के लिए रची कि वो अब भी एक बेहतरीन पुलिस अफसर (Police Officer) है और आतंक से जुड़ी साजिश की जांच वो बखूबी कर सकता है। एनएआई (NIA) द्वारा की जा रही जांच में फिलहाल नेताओं या मुंबई पुलिस (Mumbai Police) के आला अफसरों की कोई भूमिका सामने नहीं आई है। एनआईए सूत्रों का तो यहां तक कहना है कि एंटीलिया केस को उन्होंने लगभग सुलझा लिया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है