Covid-19 Update

1,54,664
मामले (हिमाचल)
1,15,610
मरीज ठीक हुए
2219
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

नारी निकेतन दिव्यांग संवासिनियों से दुष्कर्म-गर्भपात मामले में नौ आरोपी दोषी करार

नारी निकेतन दिव्यांग संवासिनियों से दुष्कर्म-गर्भपात मामले में नौ आरोपी दोषी करार

- Advertisement -

देहरादून। नारी निकेतन देहरादून में दिव्यांग संवासिनियों से दुष्कर्म और गर्भपात (Rape and Abortion) करवाने के मामले में नौ आरोपियों को कोर्ट ने दोषी करार दिया है। शासकीय अधिवक्ता संजीव सिसौदिया ने बताया कि आज देहरादून (Dehradun) में अपर जिला जज षष्ठम की अदालत में सभी नौ आरोपियों का दोष सिद्ध हुआ। दोषियों की सजा पर आगामी सोमवार को बहस होगी।


यह भी पढ़ें- जामिया समेत बड़े मस्जिदों में जुमे की नमाज पर रोक, श्रीनगर पहुंचेंगे बिपिन रावत

गौर हो कि साल 2015 में देहरादून नारी निकतन में संवासिनियों से दुष्कर्म और गर्भपात कराने के बाद भ्रूण छुपाने का मामला सामने आया था। हालांकि प्रबोशन अधिकारी मीना बिष्ट ने तो मामले को सिरे से नकार दिया था। महिला कांग्रेस ने भी भ्रमण कर नारी निकेतन (Nari Niketan) में कुछ ना होने की एक तरफा रिपोर्ट जारी कर दी थी। बाद में मेडिकल आधार पर संवासिनी के गर्भपात की पुष्टि हुई। इसके बाद नारी निकेतन अधीक्षिका समेत कई लोगों को जेल जाना पड़ा था।


नारी निकेतन के चौकीदार ने ही संवासिनी को अपनी हवस का शिकार बनाया था। डीएनए रिपोर्ट से इस पर मोहर भी लग गई थी। एसआईटी की जांच में आया कि दुराचार की घटना पर पर्दा डालने के लिए यह गर्भपात किया गया था। इस खुलासे के बाद शासन की नींद टूटी तो सुधार की प्रकिया शुरू हुई। मानसिक रोगी संवासिनी और मूक-बधिर को अलग-अलग करने के साथ मेडिकल व्यवस्था में सुधार हुआ।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है