निर्भया की मां बोलीं- राजनीतिक फायदे के लिए रोकी गई दोषियों की फांसी, हमें बनाया गया मोहरा

निर्भया की मां बोलीं- राजनीतिक फायदे के लिए रोकी गई दोषियों की फांसी, हमें बनाया गया मोहरा

- Advertisement -

नई दिल्ली। निर्भया गैंगरेप-हत्या के दोषियों की फांसी पर दिल्ली सरकार और बीजेपी के बीच आरोप-प्रत्यारोप पर निर्भया की मां आशा देवी (Nirbhaya mother) ने कहा है, ‘उन्होंने अपने (राजनीतिक) फायदे के लिए फांसी रोकी है और हमें मोहरा बनाया है।’ उन्होंने कहा, ‘2012 में इन्हीं लोगों ने खूब रैलियां कीं, नारे लगाए। आज यही लोग उस बच्ची की मौत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।’ गौरतलब है कि केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने निर्भया गैंगरेप मामले में दोषियों को फांसी की सजा देने में हो रही देरी को लेकर दिल्ली सरकार को जिम्मेदार बताते हुए कहा था कि दिल्ली सरकार की लापरवाही के चलते दोषियों की फांसी में देरी हो रही है।


यह भी पढ़ें- Renault Duster पर पाएं अब तक की सबसे बड़ी छूट, 1.5 लाख कम हुई कीमत

वहीं जावड़ेकर द्वारा निर्भया गैंगरेप केस के दोषियों की फांसी में देरी के लिए दिल्ली सरकार को ज़िम्मेदार ठहराने पर डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा है, ‘आप ज़िम्मेदारी क्यों नहीं ले रहे?’ उन्होंने कहा, ‘2 दिन के लिए दिल्ली पुलिस और कानून-व्यवस्था की ज़िम्मेदारी हमें दें, हम निर्भया केस के दोषियों को फांसी पर लटका देंगे।’ वहीं निर्भया की मां के ‘राजनीतिक फायदे के लिए रोकी गई दोषियों की फांसी’ वाले बयान पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा है, ‘हमने इस केस से संबंधित किसी भी कार्य में देरी नहीं की दिल्ली सरकार के अधीन आने वाले सभी कार्यों को घंटों में पूरा किया।’ उन्होंने कहा, ‘हम चाहते हैं कि दोषियों को जल्द-से-जल्द फांसी दी जाए।’

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Tags: | Nirbhaya convict | Nirbhaya case update | Nirbhaya mother | निर्भया की मां | निर्भया केस अपडेट | PM Narendra Modi | nirbhaya case | निर्भया केस | देश की खबरें | निर्भया के दोषियों को फांसी
loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है