Covid-19 Update

2,00,603
मामले (हिमाचल)
1,94,739
मरीज ठीक हुए
3,432
मौत
29,944,783
मामले (भारत)
179,349,385
मामले (दुनिया)
×

मंडी में पहली दिसंबर से नो हेलमेट, नो पेट्रोल

मंडी में पहली दिसंबर से नो हेलमेट, नो पेट्रोल

- Advertisement -

मंडी। सीएम जयराम ठाकुर के गृह जिला मंडी में पुलिस विभाग दो पहिया वाहन चालकों को यातायात नियमों के बारे में जागरूक करने और हेलमेट का प्रयोग करने के लिए एक पहल करने जा रही है। इसके तहत अब आने वाले 1 दिसंबर से ऐसे दो पहिया वाहन चालकों को पेट्रोल पंप पर पेट्रोल नहीं दिया जाएगा, जिन्होने हैलमेट न पहना हो। इसके अलावा दो पहिया वाहन पर पीछे बैठने वालों को भी हेलमेट पहनना जरूरी होगा, नहीं तो उन्हें भी पेट्रोल नहीं दिया जाएगा। इस बाबत पुलिस विभाग ने जिला के सभी पेट्रोल पंप मालिकों के साथ बैठक कर इस अभियान का खाका तैयार कर लिया है।

मंडी के एसपी गुरदेव चंद शर्मा ने बताया कि इस अभियान का मुख्य उद्देश्य दो पहिया वाहन चालकों को वाहन चलाते समय हेलमेट का प्रयोग करने के बारे में जागरूक करना है। इस अभियान के तहत सभी पेट्रोल पंप आपरेटरों को हिदायत दी गई है कि वे बगैर हेलमेट के किसी भी दो पहिया वाहन चालक को पेट्रोल नहीं देंगे। एसपी ने बताया कि हेलमेट नहीं तो पेट्रोल नहीं अभियान को 1 दिसंबर से जिला में लागू कर दिया जाएगा।


शुरूआती दिनों में पुलिस के कुछ जवान पेट्रोल पंप पर तैनात किए जाएंगे जो इस बात पर नजर रखेंगे कि दो पहिया वाहन चालक हेलमेट का प्रयोग कर रहे हैं या नहीं। साथ ही जिला के सभी पैट्रोल पंप आपरेटरों को सीसीटीवी कैमरों को भी दुरूस्त करने के निर्देश पुलिस विभाग की तरफ से दिए गए हैं। जिससे बाद में कैमरों के सहायता से पंप आपरेटरों की कार्यशैली पर पुलिस नजर रख सके। इसके साथ ही पुलिस विभाग ने सभी वाहन चालकों से यातायात नियमों का पालन करने का आह्वान भी किया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है