Expand

Cm Said , कोई नहीं हड़प पाएगा बेसहारा बच्चों की संपत्ति

Cm Said , कोई नहीं हड़प पाएगा बेसहारा बच्चों की संपत्ति

- Advertisement -

शिमला। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कहा है कि प्रदेश के बेसहारा बच्चों की संपत्ति को कोई हड़प नहीं पाएगा। राज्य सरकार बाल आश्रमों तथा पालक देखभाल कार्यक्रम के अंतर्गत रह रहे बेसहारा बच्चों की पैतृक सम्पत्ति में अधिकार सुरक्षित रखने के लिए हर संभव कदम उठाएगी। वह आज यहां महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा अनाथाश्रमों में रह रहे बच्चों के लिए आयोजित खेल एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिता के समापन समारोह की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ऐसे बच्चों की सम्पत्ति की सूची प्राप्त की जा रही है और यह देखा जाएगा कि सम्पत्ति उनके नाम रहे और किसी व्यक्ति द्वारा बेची अथवा हथियाई न जाए।

vir-2वीरभद्र सिंह ने कहा कि ‘मुख्यमंत्री बाल उद्धार योजना’ में संशोधन किया गया है, जिसके अनुसार जमा दो के पश्चात अनाथ बच्चों की समुचित आजीविका सुनिश्चित बनाने के लिए उनके व्यावसायिक पाठ्यक्रमों का खर्च सरकार वहन करेगी तथा उनकी शिक्षा का खर्च भी उठाएगी। उन्होंने कहा कि इन बच्चों के लिए औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों के माध्यम से व्यावसायिक पाठ्यक्रम प्रदान किए जा रहे हैं तथा सरकार द्वारा वित्तीय सहायता प्रदान की जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अनाथ तथा दिव्यांग बच्चों का पुनर्स्थापन एवं शिक्षा सरकार की पहली प्राथमिकता है। उन्होंने उत्कृष्ट शिक्षकों द्वारा शिक्षा प्रदान कर इन बच्चों की प्रतिभा को उजागर करना तथा उनमें निखार के लिए देश के विभिन्न भागों में भ्रमण करवाने पर बल दिया, ताकि वह भारत की विशिष्ट संस्कृति एवं रीति-रिवाजों को देख सकें और इसे महसूस कर सकें।

vri-1वीरभद्र सिंह ने विभिन्न खेल एवं सांस्कृतिक स्पर्धाओं में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले बच्चों को पुरस्कार भी वितरित किए।
मुख्यमंत्री ने निर्माणाधीन बालिका आश्रम मशोबरा (आदर्श बाल गृह) का कार्य शीघ्र पूरा करने के लिए लोक निर्माण विभाग को निर्देश जारी किए। उन्होंने कहा कि भवन का निर्माण 2017 ग्रीष्मकाल तक पूरा हो जाना चाहिए। राज्य के विभिन्न बाल एवं बालिका आश्रमों से 398 बच्चों ने इन प्रतियोगिताओं में भाग लिया। इस मौके पर महिला एवं बाल विकास विभाग की निदेशक मानसी सहाय ठाकुर ने कहा कि शिमला के हीरानगर में किशोर बच्चों के लिए संप्रेक्षण गृह को शीघ्र क्रियाशील बनाया जाएगा। राज्य बाल कल्याण परिषद की महासचिव राज कुमारी सोनी भी महिला एवं बाल विकास विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों सहित इस अवसर पर उपस्थित थीं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है