Covid-19 Update

2,17,140
मामले (हिमाचल)
2,11,871
मरीज ठीक हुए
3,637
मौत
33,501,851
मामले (भारत)
229,513,714
मामले (दुनिया)

ATM से गायब हो रहे 2000 रुपए के नोट, जानें क्या है सर्कुलेशन में भारी गिरावट होने की वजह

ATM से गायब हो रहे 2000 रुपए के नोट, जानें क्या है सर्कुलेशन में भारी गिरावट होने की वजह

- Advertisement -

नई दिल्ली। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा जब नोटबंदी का ऐलान करते हुए नए नोट जारी किए गए थे। तब लोगों के मन में 2000 रुपए के नोट को लेकर काफी ज्यादा क्रेज था। लेकिन अब बीते कुछ समय से कई बैंकों के एटीएम (ATM) मशीन से 2000 रुपए के नोट (2000 Rupee Note) नहीं निकल रहे हैं। कुछ बैंकों ने तो आधिकारिक तौर पर 2000 रुपए के नोट नहीं रखने का ऐलान भी कर दिया है। इस सब के बीच रिजर्व बैंक ने बताया है कि बीते एक साल में 2000 रुपए के नोट की छपाई नहीं हुई है। आरबीआई की वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार 2019-20 में 2000 रुपए के नए नोट नहीं छापे गए।

200 और 500 रुपए के नोट का बढ़ा है प्रचलन

बतौर रिपोर्ट, मार्च 2019 के अंत तक 2000 रुपए के 32,910 लाख नोट चलन में थे जो मार्च 2020 में घटकर 27,398 लाख रह गए। वहीं, मार्च 2020 के अंत तक चलन में मौजूद कुल नोटों के मूल्य में इनकी हिस्सेदारी घटकर 22.6% रह गई। मार्च 2020 तक के डेटा के मुताबिक, देश में सर्कुलेट हो रही कुल करेंसी में 2000 रुपए के नोटों की 2.4 फीसदी हिस्सेदारी है। इससे पहले 2019 में यह आंकड़ा 3 फीसदी का था। वहीं मार्च 2018 की बात की जाय तो यह 3.3 फीसदी था। यानी की साल दर साल 2000 रुपए के नोटों का प्रचलन कम हुआ है।

यह भी पढ़ें: खुद को अंदर से सैनिटाइज करने वाले हुए परेशान; शराब दुकानदार ही निकल गया Covid-19 पॉज़िटिव

आरबीआई ने अपने रिपोर्ट में बताया है कि, जहां एक तरह 2000 रुपए के नोटों की संख्या में लगातार गिरावट देखी जा रही है। वहीं दूसरी तरफ पिछले तीन साल (2018-2020) के दौरान 500 और 200 रुपए के छोटे नोटों का प्रचलन काफी बढ़ा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2019-20 में बीआरबीएनएमपीएल तथा एसपीएमसीआईएल को 100 के 330 करोड़ नोटों की छपाई का ऑर्डर दिया गया। इसी तरह 50 के 240 करोड़ नोटों, 200 के 205 करोड़ नोटों, 10 के 147 करोड़ नोटों और 20 के 125 करोड़ नोटों की छपाई का ऑर्डर दिया गया। इनमें से ज्यादातर की आपूर्ति वित्त वर्ष के दौरान की गई।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है