Covid-19 Update

2,05,017
मामले (हिमाचल)
2,00,571
मरीज ठीक हुए
3,497
मौत
31,341,507
मामले (भारत)
194,260,305
मामले (दुनिया)
×

ब्रेकिंगः शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन को आचार संहिता का उल्लघंन करने पर नोटिस जारी, बोले प्रशासनिक द्वेष

ब्रेकिंगः शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन को आचार संहिता का उल्लघंन करने पर नोटिस जारी, बोले प्रशासनिक द्वेष

- Advertisement -

धर्मशाला। निर्वाचन कार्यालय के आदेशों की अवहेलना करने पर हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड (Himachal Pradesh Board of School Education) के चेयरमैन (chairman) को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। प्रदेश में धर्मशाला व् पच्छाद में उपचुनाव की घोषणा के साथ ही मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट (Model code of conduct) लागू होने के बाद उसके उल्लंघन (violating) के आरोप में हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन को हिमाचल के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के आदेशों पर कारण बताओ नोटिस (Show cause notice) जारी कर स्थिति स्पष्ट करने के आदेश दिए गए हैं। बीती 16 अक्टूबर को मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने धर्मशाला प्रवास के दौरान शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन द्वारा सरकारी वाहन का इस्तेमाल करते पाया था।

यह भी पढ़ें :-मुख्य सचिव के निर्देशः एफआरए के तहत वनाधिकारों के मामलों का समाधान करें डीसी


शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने से पूर्व एक दिन का समय निर्धारित किया है, इसमें वह कारण प्रस्तुत कर सकते हैं। कारण प्रस्तुत ना करने पर उनके खिलाफ एकपक्षीय कार्रवाई की जाएगी। आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद 21 सितंबर 2019 से लेकर आज दिन तक सरकारी गाड़ी की लॉग बुक व् अन्य साक्ष्य भी उन्हें प्रस्तुत करने होंगे। ड्राइवर यूनियन ने निर्वाचन अधिकारी को सौंपे शिकायत पत्र में आरोप लगाया है कि शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन का ड्राइवर अवकाश पर है।

लेकिन बोर्ड ने बिना अनुमति चेयरमैन की गाड़ी चलाने के लिए निजी ड्राइवर रखा हुआ है। जो की आदर्श आचार संहिता की अवहेलना है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी को फ़ोन पर भी शिकायतें मिली हैं कि स्कूल शिक्षा बोर्ड कार्यालय ने कुछ कर्मचारियों के ट्रांसफर अभी किए हैं जिन्हें पिछली तिथियों में दर्शाया गया है। इस बाबत हिमाचल स्कूल शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन डॉ सुरेश कुमार सोनी का कहना है कि मैंने कभी भी चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन नहीं किया है बल्कि यह नोटिस मुझे प्रशासनिक द्वेष के कारण जारी किया गया है। मेरी अप्वॉइंटमेंट एक्ट के अनुसार शिक्षाविद के रूप में हुई है, मैं आज भी सरकारी कर्मचारी हूँ। मैंने वाहन का इस्तेमाल किसी राजनीतिक सभा या प्रचार के लिए नहीं बल्कि सरकारी आवास से बोर्ड कार्यालय आने जाने के लिए किया है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है