- Advertisement -

अब मृत महिला से भी हो सकेगा बच्चे का जन्म, जानें

मृत महिला का यूटेरस इम्प्लांटेशन कर होगा जन्म

0

- Advertisement -

नई दिल्ली।तकनीक में विस्तार से आजकल कुछ ऐसी चीजें भी देखने को मिल जाती हैं जिनकी हमने कभी कल्पना भी न की हो। कुछ ऐसे ही हैरतअंगेज चीज की जानकारी हम आपको देने जा रहे हैं। जो महिलाएं बांझपन की समस्या से जूझ रही हैं उनको यूटर्स दान लेने के लिए किसी जिन्दा महिला की जरूरत नहीं पड़ेगी। जी हां, क्योंकि अब मृत महिला के गर्भाशय से भी बच्चे का जन्म हो पाएगा। इसके लिए यूटर्स इम्प्लांटेशन की तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा।

इस तकनीक से एक मृत महिला का गर्भाशय इम्प्लांटेशन कर दुनिया के पहले बच्चे को जन्म दिया गया है। दरअसल मृत महिला के गर्भाशय का इम्प्लांटेशन कर एक 45 वर्षीय मानसिक रूप ने 2017 में एक स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया गया था। इसके जरिए उन सभी महिलाओं को भी लाभ मिलेगा, जो गर्भाशय की परेशानी से जूझ रही हैं, क्योंकि अब इसके लिए उन्हें किसी जिंदा दानकर्ता की जरूरत नहीं होगी।इस सर्जरी के दौरान मृत दानकर्ता महिला का गर्भाशय निकालकर दूसरी महिला में डाला जाता है। इसके साथ ही दानकर्ता के गर्भाशय को मरीज की नसों व धमनियों, अस्थिबंध और शरीर के निचले हिस्से के साथ भी जोड़ा जाता है।

बता दें कि गर्भाशय देने वाली महिला की स्ट्रोक से मौत हो गई थी। अध्ययन में पाया गया कि 35 हफ्ते और तीन दिन में सीजेरियन तरीके से महिला ने 2।5 किलोग्राम की बच्ची को जन्म दिया। इसके बाद सीजेरियन के दौरान मृत महिला के गर्भाशय को निकाल दिया गया था।

 

- Advertisement -

Leave A Reply