Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,612,794
मामले (भारत)
198,030,137
मामले (दुनिया)
×

अब कर्मचारी खुद बना सकता है UAN नंबर, करना होगा यह काम

अब कर्मचारी खुद बना सकता है UAN नंबर, करना होगा यह काम

- Advertisement -

शिमला। कर्मचारी भविष्य निधि सगंठन (EPFO) ने नई सुविधा शुरू की है। कर्मचारी अब खुद यूएएन जेनरेट कर सकेंगे। भारत सरकार के “Ease of Living” नीति के कार्यांस्वयन की दिशा में कदम उठाते हुए कर्मचारी भविष्य निधि सगंठन (EPFO) मुख्यालय ने कर्मचारियों द्वारा खुद से यूएएन जनरेट करने की सुविधा हाल ही में प्रारंभ की है। क्षेत्रीय भविष्य निधि आयुक्त-एक, हिमाचल सुदर्शन कुमार ने बताया कि विभाग द्वारा कर्मचारियों को सेल्फ यूएएन जनरेट करने की नई सुविधा प्रदान की है। यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) एक पहचान संख्या है, जो प्रत्येक कर्मचारी को भविष्य निधि खाते के साथ आवंटित की जाती है। यह कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) द्वारा प्रदान किया गया एक 12-अंकीय संख्या है। स्थायी खाता संख्या (पैन) की तरह, आपका यूएएन भी जीवन भर स्थिर रहता है।

यह भी पढ़ें: मुकेश का पलटवार, सत्ती लंबे समय से अध्यक्ष, पार्टी फंड की लूटपाट का अच्छा तजुर्बा


इसलिए, यदि कर्मचारी बार-बार नौकरी बदलता है, तो भी उनका यूएएन वही रहेगा। इस पहल से पीएफ लाभ के लिए कर्मचारियों की अपने नियोक्ताओं पर निर्भरता नहीं रहेगी। अब भी किसी पात्र कर्मचारी को कोई नियोक्ता पीएफ का लाभ नहीं दे रहा हो तो वह कर्मचारी यूएएन खुद जेनरेट कर पीएफ विभाग को भेजकर पीएफ लाभ प्राप्त कर सकता है। कर्मचारी अपना यूएएन (UAN) अपने नियोक्ता से सीधे प्राप्त कर सकते हैं। यदि नियोक्ता ने यूएएन (UAN) जेनरेट नहीं किया है, ऐसे करें आवेदक को ईपीएफओ (EPFO) की वेबसाइट पर जाकर यूएन मेंबर पोर्टल पर जाना होगा।


दूसरे स्टेप में पृष्ठ के नीचे दाईं ओर डायरेक्ट यूएएन अलॉटमेंट बाई एम्पलॉयर पर क्लिक करना होगा। इसके बाद तीसरे स्टेप में आधार लिंक्ड मोबाइल नंबर (Mobile Number) प्रवेश करें और स्क्रीन पर इसे जेनरेट करने के लिए इंगित तरीकों/चरणों का अनुसरण करें। बाद में किसी संस्थान में नौकरी करने पर नियोक्ता को सूचित करें। इसके अलावा कर्मचारी भविष्य निधि एवं विविध उपबन्ध अधिनियम, 1952 के तहत जिस संस्थान में 20 या इससे अधिक कर्मचारी हैं, वहां पर पीएफ लागू होना अनिवार्य है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है