Covid-19 Update

2,16,813
मामले (हिमाचल)
2,11,554
मरीज ठीक हुए
3,633
मौत
33,437,535
मामले (भारत)
228,638,789
मामले (दुनिया)

PGI में अब डॉक्टर-नर्स नहीं Robotic Trolley देगी कोरोना मरीजों को खाना और दवा

PGI में अब डॉक्टर-नर्स नहीं Robotic Trolley देगी कोरोना मरीजों को खाना और दवा

- Advertisement -

चंडीगढ़। पीजीआई (PGI) में अब कोरोना संक्रमित मरीजों को खाना, पानी और दवा पहुंचाने का काम स्टाफ नहीं बल्कि रोबोटिक ट्रॉली (Robotic Trolley ) करेगी। यहां आज रोबोटिक ट्रॉली’ दूत’ को लॉन्च किया गया। पीजीआई के डायरेक्ट डॉ. जगतराम ने इसके बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस ट्रॉली को डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ को कोरोना संक्रमित मरीजों के बीच संक्रमित होने से बचाने में उपयोग किया जाएगा। अब मरीजों को खाना और दवा (Food and Medicine) देने के लिए किसी भी व्यक्ति को उनके करीब जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इस ट्रॉली को रिमोट से चलाया जा सकता है। उन्होंने इसे बनाने के लिए अस्पताल प्रबंधन विभाग के डॉ. प्रणेय महाजन व डॉ. शैलेश गाहुकर को बधाई दी।

यह भी पढ़ें: कोरोना संकट में Landlords का अत्याचार, Rent के बदले कर रहे शारीरिक संबंध बनाने की मांग

25 हजार रुपये की लागत से बनाई गई ट्रॉली, 4 दिन का बैटरी बैकअप

डॉ. जगतराम ने बताया कि इसे लॉकडाउन (Lockdown) में उपलब्ध सामान से 25 हजार रुपये की लागत से बनाया है। ऑटोमेटिक रोबोटिक ट्रॉली से मरीज के बेड तक खाना, पानी, दवाएं आदि पहुंचाई जाएंगी। ये रोबोट रिमोट संचालित है। इसमें एप बेस क्लाउड कैमरा के साथ ही नाइट विजन, थर्मल सेंसर लगे हुए हैं। इसमें 4 दिन का बैटरी बैकअप है। यह पूरी तरह सें सेंसर तकनीक पर आधारित है। बता दें, कि इससे पहले जीएमसीएच 32 के चिकित्सकों ने भी इस प्रकार का रोबोट बनाया था। उससे भी मरीजों को उनके बेड तक दवा और खाना दिया जा रहा है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है