×

एवरेस्ट फतेह कर गांव लौटे विवेक, पहली बार बेटी को गले लगा हुए भावुक

एवरेस्ट फतेह कर गांव लौटे विवेक, पहली बार बेटी को गले लगा हुए भावुक

- Advertisement -

नाहन। एवरेस्ट (Everest) विजेता विवेक ठाकुर का पैतृक गांव पहुंचने पर परिजनों समेत ग्रामीणों ने भव्य स्वागत किया। जैसे ही एनएसजी कमांडो (NSG Commando) विवेक ठाकुर की माता यशोदा ने उनकी आरती उतारकर स्वागत किया। इसी बीच विवेक ठाकुर ने अपनी तीन माह की बच्ची को पहली बार गले लगाकर खूब दुलार किया।


यह भी पढ़ें: मिसालः 40 डिग्री तापमान में उगा दिया सेब, एक पेड़ से एक क्विंटल हुआ उत्पादन

 

इस मौके पर नवयुवक मंडल के प्रधान निकुंज ठाकुर, महिला मंडल की प्रधान मीरा देवी, नवदुर्गा आईटीआई के निदेशक इंद्र प्रकाश गोयल समेत गांव के दर्जनों लोग उनके स्वागत में शामिल हुए। उल्लेखनीय है कि जिस दिन विवेक ठाकुर ने एवरेस्ट (Everest) फतेह किया था, उसी दिन उनके घर पर पुत्री ने जन्म लिया। हाल ही में विवेक ठाकुर एवरेस्ट (Everest) फतेह पर लौटे हैं। इसके बाद वह आज घर पहुंचे। जहां उन्हें लोगों ने पलकों पर बिठाकर स्वागत किया।

रेणुका तीर्थ से सटे छोटे से गांव बेडोन निवासी विवेक ने अपने साथियों के साथ नेपाल से एवरेस्ट (Everest) की चढ़ाई शुरू की थी। 30 मार्च को उन्हें राष्ट्रीय ध्वज और एनएसजी (NSG) ध्वज देकर दिल्ली से रवाना किया गया था। विवेक एवरेस्ट (Everest) फतह करने निकली 16 सदस्यीय टीम का हिस्सा बनें। टीम सदस्यों ने 8848 मीटर की ऊंचाई का यह सफर करीब दो माह में पूरा किया।

बता दें कि विवेक ठाकुर ने साल 2012 में पैरा मिलिट्री फोर्स में सब इंस्पेक्टर पद पर सेना में सेवाओं की शुरुआत की थी। वर्ष 2015 में उन्हें एनएसजी (NSG) में ब्लैक कैट कमांडों (Black Cat Commandos) के पद पर प्रतिनियुक्ति पर भेजा गया। उन्होंने यहां से माउंट एवरेस्ट(Mount Everest) पर चढ़ने का लक्ष्य निर्धारित किया था, जिसे उन्होंने साकार भी किया।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है