Covid-19 Update

58,460
मामले (हिमाचल)
57,260
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,046,914
मामले (भारत)
113,175,046
मामले (दुनिया)

Nurpur Accident : MLA राकेश पठानिया ने NDRF को लपेटा, कहा; हादसे की सूचना देने के बाद उठाए कई सवाल

Nurpur Accident : MLA राकेश पठानिया ने NDRF को लपेटा, कहा; हादसे की सूचना देने के बाद उठाए कई सवाल

- Advertisement -

Rakesh Pathania Attacks NDRF : शिमला। Nurpur Accident के बाद वहां के MLA Rakesh Pathania ने NDRF की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए हैं। शिमला में पत्रकार वार्ता के दौरान पठानिया ने कहा कि NDRF को हादसे की सूचना तय समय पर दे दी थी, लेकिन टीम ने कई सवाल किए और घटनास्थल पर आने के लिए असमर्थता जताई। उन्होंने कहा कि सरकार के आदेशों के साथ पूरे ज़िला प्रशासन ने मुस्तैदी से इस मुश्किल वक्त में अपना बेस्ट देने का प्रयास किया था। उन्होंने कहा कि Supreme Court की साफ गाइडलाइन है कि किसी भी हादसे में मारे गए लोगों का बिना पोस्टमार्टम किए, शव नहीं दिया जा सकता। ऐसे में नूरपुर हादसे के बाद पोस्टमार्टम करने के बाद ही शव परिजनों के हवाले किए गए थे। Nurpur Accident  के बारे में Rakesh Pathania ने कहा कि तीन बच्चों की मौत Pathankot Hospital में हो चुकी थी, जिन्हें भी वापस नूरपुर लाया गया था।
हालांकि सुबह जल्द पूरी टीम के साथ बच्चों का पोस्टमार्टम शुरू किया गया, लेकिन बच्चों के परिजनों के अस्पताल में नहीं पहुंच पाने के कारण थोड़ी देरी हुई है। उन्होंने कहा कि Nurpur टैक्सी ऑपरेटरों ने मुफ्त में शवों को घरों तक पहुंचाने के लिए 50 गाड़ियां मुहैया करवाई थी। शवों को देरी से दिए जाने के मामले में Rakesh Pathania ने कहा कि उस दिन सुबह 9.45 तक दो शिनाख्त कर्ता नहीं पहुंच पाए थे। Rakesh Pathania ने कहा कि हादसे में 7 बच्चे ऐसे थे, जो पहली बार स्कूल गए थे। अगर CM इन नन्हे बच्चों को श्रद्धांजलि देने के लिए आए तो इसमें क्या गलती है। Rakesh Pathania ने मीडिया में प्रकाशित खबरों को लेकर कहा कि इस विषय को गलत तरीके से पेश किया। उन्होंने  सरकार की तरफ से सफाई देते हुए कहा कि इस विषय पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। MLA Rakesh Pathania ने बताया कि तीन बच्चों की ब्रेन सर्जरी को गई है, जबकि 4 बच्चे Nurpur Hospital में है। उन्होंने उमीद जताई को यह सब ठीक होकर वापस लौटेंगे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है